Hindi News ›   Chandigarh ›   Aam Aadmi Party raised questions on Punjab government on law and order issue

आप का आरोप: पंजाब में सवा चार साल में 7138 लोग अगवा, लुधियाना में सबसे ज्यादा अपराध, कैप्टन सरकार को घेरा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Published by: ajay kumar Updated Mon, 06 Sep 2021 02:51 AM IST
सार

आम आदमी पार्टी ने कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर पंजाब सरकार पर जमकर निशाना साधा। आप नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि बादल सरकार की तरह कांग्रेस के शासन में भी माफिया राज जस का तस है। लुधियाना में सबसे ज्यादा अपराध है तो वहीं मुख्यमंत्री का गृह जिला पटियाला भी इस मामले में पांचवें पायदान पर है।

हरपाल सिंह चीमा
हरपाल सिंह चीमा - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि पंजाब में कानून व्यवस्था बेकाबू हो चुकी है, जिसकी गवाही सरकारी आंकड़े दे रहे हैं। सरकार के गुजरे 4 वर्ष 3 महीने में 7138 लोगों को अगवा किया गया और उन्हें सुरक्षित छोड़ने के लिए फिरौती मांगी गई। ये सभी मामले वे हैं जो सरकारी रिकॉर्ड में दर्ज हैं लेकिन अपहरणकर्ताओं से जान बचाने के लिए जो पीड़ित पुलिस थानों तक नहीं पहुंचे, उनकी कोई गिनती नहीं है।



रविवार को पार्टी मुख्यालय से जारी बयान में हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि एक जमाने में बिहार और उत्तर प्रदेश में होती अपहरण जैसी वारदातें आज पंजाब में चरम सीमा पर हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जिम्मेदार हैं, जिनके पास पंजाब का गृह विभाग है। बदतर कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी और जवाबदेही कैप्टन की है। 


उन्हें तत्काल प्रभाव से गृह विभाग छोड़कर इसे किसी अन्य सक्षम मंत्री को सौंपना चाहिए। चीमा ने कहा कि सत्तारूढ़ दल के नेता, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों का अपराधियों से गठजोड़ के कारण पंजाब अपराध का गढ़ बन चुका है। बढ़े अपराध का असर सीधे पंजाब के आर्थिक विकास पर भी पड़ रहा है। निवेशकों को सुरक्षित और सुखद माहौल नहीं मिल पा रहा है। नतीजतन पंजाब औद्योगिक क्षेत्र में लगातार पिछड़ता जा रहा है।

आप नेता हरपाल सिंह चीमा ने बताया कि अपहरण कर फिरौती मांगने की सबसे अधिक वारदात में औद्योगिक क्षेत्र लुधियाना सबसे आगे है। कैप्टन के कार्यकाल में यहां 1032 वारदात को अंजाम दिया गया है। 765 वारदात के साथ अमृतसर दूसरे और 619 वारदात से जालंधर तीसरे स्थान पर है। यहां तक कि मुख्यमंत्री का अपना गृह जिला पटियाला 470 अपहरण की वारदात के साथ पांचवें नंबर पर है। मोहाली जिले में मुख्यमंत्री का अपना शाही फार्म हाउस है और यहां भी 570 वारदात हो चुकी हैं। इनमें वर्ष 2021 में ही सबसे अधिक 122 वारदात हुईं हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00