लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Private bus operators strike in Jalandhar and Abohar

Bus Strike: जालंधर और अबोहर में निजी बस संचालकों की हड़ताल, यात्रियों को उठानी पड़ी परेशानी

संवाद न्यूज एजेंसी, अबोहर/जालंधर (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Tue, 09 Aug 2022 05:10 PM IST
सार

अबोहर में मंगलवार सुबह से निजी बसों के चक्के जाम रहे। निजी बस संचालकों ने धरना दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।

अबोहर बस अड्डे पर धरना देते बस चालक व परिचालक।
अबोहर बस अड्डे पर धरना देते बस चालक व परिचालक। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

महिलाओं को पंजाब रोडवेज व पीआरटीसी में दी जा रही निशुल्क यात्रा सुविधा के चलते निजी बस संचालकों को हो रहे घाटे से नाराज निजी बस आपरेटरों ने मंगलवार को बस स्टैंड पर धरना दिया। प्रदर्शन के दौरान निजी बस संचालकों ने जालंधर के बस अड्डे को पूरी तरह जाम कर दिया। इसके बाद किसी भी बस को अड्डे के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया। 



हड़ताल के कारण यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। खासकर जिन महिलाओं ने राखी के त्योहार के मद्देनजर एक शहर से दूसरे शहर जाना था, उनको खासी दिक्कत का सामना करना पड़ा। हड़ताल के कारण अक्सर सवारियों को तरसने वाली अन्य राज्यों की बसों की चांदी हो गई। सभी बसें ओवरलोड होकर गंतव्य को जाती दिखीं। हड़ताल से घबराए जिला प्रशासन ने निजी बस आपरेटरों को बस स्टैंड खोलने के लिए मनाने का प्रयास किया लेकिन बस संचालक हड़ताल खत्म करने पर राजी नहीं हुए। डीसीपी जगमोहन सिंह और पंजाब रोडवेज के जनरल मैनेजर मनिंदर सिंह ने आपरेटरों के साथ बैठक भी की।

 
पंजाब मोटर यूनियन के संदीप शर्मा ने कहा कि निजी बस आपरेटर लंबे समय से अपनी मुश्किलों से सरकार को अवगत करवा रहे हैं। उन्होंने पंजाब के सीएम मान से मुलाकात भी की, इसके बावजूद बस संचालकों को कोई राहत नहीं दी गई है। अब निजी बस आपरेटर अपने धरने से तब तक नहीं उठेंगे, जब तक सरकार राहत की घोषणा नहीं कर देती। 

महिलाओं को पंजाब रोडवेज व पीआरटीसी में निशुल्क यात्रा सुविधा देने के चलते निजी बस संचालकों को काफी घाटा हो रहा है। उन्होंने कहा कि मोटर व्हीकल टैक्स एक रुपये प्रति किलोमीटर किया जाए व मोटर व्हीकल टैक्स पर 10 फीसदी सरचार्ज खत्म किया जाए। इसके अलावा दिन में मात्र एक बार ही अड्डा फीस ली जाए। उन्होंने कहा कि जिस तरह से सरकारी बसों में महिलाओं के सफर की सुविधा के एवज में उन्हें भुगतान किया जाता है, वैसे ही निजी बसों में सुविधा लागू कर उन्हें भुगतान किया जाए, क्योंकि वह भी सरकार को टैक्स भरते हैं। 

अबोहर में भी निजी बसों के चक्के जाम
अबोहर में मंगलवार सुबह से निजी बसों के चक्के जाम रहे। निजी बस संचालकों ने धरना दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं सरकारी बसों में पैर रखने की जगह नहीं मिली। बस स्टैंड पर धरना लगाकर नारेबाजी कर रहे यूनियन के पदाधिकारियों ने कहा कि पंजाब सरकार ने सरकारी बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा दी है, जिससे निजी बस मालिकों को भारी घाटा हो रहा है। इसलिए सरकारी बसों की भांति निजी बसों में महिलाओं की मुफ्त यात्रा लागू कर उनका किराया सरकार निजी बस ऑपरेटरों को जारी करे। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00