लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Cricket ›   Cricket News ›   Ranji Trophy 2022 Prithvi Shaw becomes 6th Mumbai captain to lose Ranji Trophy final joins Sunil Gavaskar and Sanjay Manjrekar list

Ranji Trophy: मुंबई छठी बार फाइनल हारा, सुनील गावस्कर और संजय मांजरेकर के अनचाहे लिस्ट में शामिल हुए पृथ्वी शॉ

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, बेंगलुरु Published by: रोहित राज Updated Sun, 26 Jun 2022 07:20 PM IST
सार

आदित्य श्रीवास्तव मध्य प्रदेश की टीम पहली बार चैंपियन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए। वहीं, पृथ्वी शॉ फाइनल हारने वाले मुंबई के छठे कप्तान बन गए।

पृथ्वी शॉ
पृथ्वी शॉ - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

मध्य प्रदेश की टीम ने रणजी ट्रॉफी फाइनल में मुंबई को हराकर पहली बार खिताब अपने नाम किया। बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी में रविवार (26 जून) को मैच के पांचवें और आखिरी दिन मध्य प्रदेश ने मैच को छह विकेट से अपने नाम किया। आदित्य श्रीवास्तव मध्य प्रदेश की टीम पहली बार चैंपियन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए। वहीं, पृथ्वी शॉ फाइनल हारने वाले मुंबई के छठे कप्तान बन गए।


मुंबई ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 374 रन बनाए। वहीं, मध्य प्रदेश ने पहली पारी में 536 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया। दूसरी पारी में मुंबई की टीम ने 269 रन बनाए। इस तरह मध्य प्रदेश को मैच जीतने के लिए 108 रनों का लक्ष्य मिला। इसे उसने चार विकेट गंवाकर हासिल कर लिया। मध्य प्रदेश रणजी टॉफी जीतने वाली 20वीं टीम बन गई।


41 बार खिताब जीतने वाली मुंबई की टीम पिछली बार 2016/17 में फाइनल हारी थी। तब उसे गुजरात ने फाइनल में परास्त किया। उस वक्त मुंबई के कप्तान आदित्य तारे थे। मुंबई की टीम पहली बार फाइनल 1947/48 में हारी थी। उस समय टीम बॉन्बे के नाम से जानी जाती थी। केएसी इब्राहिम टीम के कप्तान थे। बॉम्बे को 1979/80 में दिल्ली के हाथों हार मिली थी। टीम की कमान सुनील गावस्कर के हाथों में थी।

कर्नाटक ने 1982/83 में बॉम्बे को हरा दिया था। टीम के कप्तान अशोक मांकड़ थे। 1990/91 में बॉम्बे को चौथी बार फाइनल में हार मिली थी। संजय मांजरेकर टीम के कप्तान थे। 1995 में बॉम्बे के नाम को आधिकारिक रूप से मुंबई कर दिया गया। फिर आदित्य तारे और पृथ्वी शॉ बतौर कप्तान फाइनल में हारे।

पिछले कुछ सालों में रणजी में नई टीमें उभर कर सामने आ रही हैं। 2014-15 से अब तक आठ सीजन में छह अलग-अलग टीमों ने खिताब अपने नाम किए हैं। 2014-15 में कर्नाटक, 2015-16 में मुंबई, 2016-17 में गुजरात, 2017-18 और 2018-19 में विदर्भ, 2019-20 में सौराष्ट्र और 2021-22 में मध्य प्रदेश की टीम चैंपियन बनी है। 2020-21 में कोरोना की वजह से टूर्नामेंट को रद्द कर दिया गया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00