Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Former Union Minister and Congress Leader RPN Singh Joins BJP Know as Raja Saheb of Padrauna

RPN Singh Joins BJP: पडरौना के 'कुंवर साहेब' के बारे में अहम बातें, जानें पूर्वांचल में कितना है इनका सियासी प्रभाव

Prashant Kumar प्रशांत कुमार
Updated Tue, 25 Jan 2022 02:01 PM IST

सार

कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद आरपीएन सिंह ने ट्वीट कर कहा कि, 'आज, जब पूरा राष्ट्र गणतंत्र दिवस का उत्सव मना रहा है, मैं अपने राजनीतिक जीवन में नया अध्याय आरंभ कर रहा हूं।'
भाजपा में शामिल हुए आरपीएन सिंह
भाजपा में शामिल हुए आरपीएन सिंह - फोटो : अमर उजाला- फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

यूपी की सियासत में पूर्वांचल सभी दलों के लिए काफी महत्व रखता है। यहां राजघरानों से लेकर बाहुबलियों का सियासत में काफी दबदबा है। राजनीतिक दल इन प्रभावशाली लोगों को अपने पाले में लाने के लिए हरदम मशक्कत करते रहते हैं। ऐसा ही एक नाम है कुंवर रतनजीत प्रताप नारायण सिंह(आरपीएन सिंह) का। सिंह पूर्वांचल में कांग्रेस का बड़ा चेहरा रहे हैं। हाथ का साथ छोड़ अब वह भाजपा का दामन थामेंगे।

विज्ञापन


राजनीतिक पंडितों का मानना है कि सिंह के भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस और समाजवादी पार्टी दोनों पर प्रभाव पड़ेगा। पडरौना विधानसभा सीट से वह विधायक रहे हैं। हाल ही में भाजपा से बागी हुए स्वामी प्रसाद मौर्य भी इसी सीट से चुनावी मैदान में उतरने का विचार बना रहे थे। कहा जा रहा है कि स्वामी अब सपा से अन्य सीट पर चुनाव लड़ने की मांग कर रहे हैं। जानिए पूर्वांचल में आरपीएन सिंह के सियासी प्रभाव और जीवन के बारे में अहम बातें...

 

सिंह का जन्म 25 अप्रैल 1964 को दिल्ली में हुआ था। उनकी पत्नी का नाम सोनिया सिंह है। आरपीएन और सोनिया की तीन बेटियां हैं। सिंह के पिता कुशीनगर से सांसद थे। वह इंदिरा गांधी की सरकार में रक्षा राज्यमंत्री भी रहे। आरपीएन सिंह युवा कांग्रेस उत्तर-प्रदेश के अध्यक्ष व ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव रह चुके हैं। सिंह को पडरौना का राजा साहेब कहा जाता है।

 

मैं अपने राजनैतिक जीवन में नया अध्याय आरंभ कर रहा हूं
आरपीएन सिंह ने मंगलवार को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता और सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइल से कांग्रेस का नाम और उससे जुड़े पदों को भी हटा दिया है। चर्चा है कि आरपीएन भाजपा की तरफ से स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनावी मैदान में होंगे। कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद आरपीएन सिंह ने ट्वीट कर कहा कि, 'आज, जब पूरा राष्ट्र गणतंत्र दिवस का उत्सव मना रहा है, मैं अपने राजनीतिक जीवन में नया अध्याय आरंभ कर रहा हूं।'
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00