लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   DDA preparing to increase on street parking rates after ten years

Delhi: दस साल बाद ऑन स्ट्रीट पार्किंग की दरें बढ़ाने की तैयारी में डीडीए, तीन गुना अधिक देना होगा चार्ज

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: विजय पुंडीर Updated Mon, 01 Aug 2022 06:02 AM IST
सार

सूत्रों के अनुसार, डीडीए ने मास्टर प्लान 2041 में एनडीएमसी, एमसीडी और अन्य विभागों की मल्टीलेवल कार पार्किंग परियोजनाओं को कामयाब करने की दिशा में प्रावधान करने का निर्णय लिया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

राजधानी की सड़कों पर वाहनों का भार कम करने की दिशा में करीब एक दशक बाद फिर सड़कों पर होने वाली (ऑन स्ट्रीट) पार्किंग की दरें बढ़ाने की तैयारी है। इस बार डीडीए ने मास्टर प्लान के माध्यम से पार्किंग की दरें बढ़ाने की कवायद शुरू की है।



इस संबंध में वह मास्टर प्लान में प्रावधान कर रही है, जबकि एक दशक पहले मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित विशेष कार्यदल व पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण ने पार्किंग दरों में भारी बढ़ोतरी करने की सिफारिश की थी, लेकिन स्थानीय निकायों ने यह सिफारिश नहीं मानी थी।


सूत्रों के अनुसार, डीडीए ने मास्टर प्लान 2041 में एनडीएमसी, एमसीडी और अन्य विभागों की मल्टीलेवल कार पार्किंग परियोजनाओं को कामयाब करने की दिशा में प्रावधान करने का निर्णय लिया है। इस कड़ी में इन पार्किंग के आसपास ऑन स्ट्रीट पार्किंग को खत्म करने की निर्णय लिया जा रहा है। दरअसल मल्टीलेवल कार पार्किंग में कार खड़ी करने एवं बाहर निकालने में समय लगता है। इसके कारण लोग अपनी कार पार्किंग में खड़ी करने के बजाए ऑन स्ट्रीट पार्किंग की प्राथमिकता देते है।

डीडीए ने केंद्रीय आवास और शहरी मंत्रालय से ऑन स्ट्रीट पार्किंग की दरें मल्टीलेवल कार पार्किंग से तीन गुना अधिक तय की है। इसके अलावा वह मास्टर प्लान-2041 में मल्टीलेवल पार्किंग के चारों ओर 500 मीटर के दायरे में ऑन स्ट्रीट पार्किंग की व्यवस्था खत्म करने का प्रावधान कर रही है। इसके अलावा पार्किंग दूर होने पर शटल सर्विस की व्यवस्था करने की भी योजना है। दूसरी ओर अतिव्यस्त समय और गैरव्यस्त समय के लिए के साथ-साथ सप्ताहांत के अनुसार पार्किंग दरें तय की जाएगी।

पहले की पार्किंग दरें
  • कार/जीप/एसयूवी: 30 मिनट तक 10 रुपये, 30 मिनट से एक घंटे तक 20 रुपये, एक से तीन घंटे तक 50 रुपये व तीन घंटे के बाद प्रत्येक एक घंटे पर 20 रुपये।
  • स्कूटर, मोटर साईकिल की दरें हर श्रेणी में कार/जीप/एस.यू.वी. से आधी और बस/ट्रक/टेम्पो/ऑटो रिक्शा की दरें दोगुना।
  • सायं पांच से नौ बजे तक चार पहिया व उससे अधिक पहियों के वाहनों पर 50 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क।

आनंद विहार स्टेशन पर ऑटो-टैक्सी वालों का धरना
आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर ऑटो-टैक्सी स्टैंड को हटाने का विरोध रविवार को किया। टैक्सी चालकों का आरोप है कि रेल प्रशासन स्टैंड को खाली करा कर निजी ठेकेदार को सौंप रहा है। जबकि 2009 से रेलवे स्टेशन निर्माण के साथ ही स्टैंड चलता आ रहा है। इसे लेकर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र तिपहिया चालक यूनियन ने दिल्ली रेल मंडल प्रबंधक को शिकायत ज्ञापन भी सौंपा है।  तिपहिया चालक यूनियन के प्रधान ललित कुमार का कहना है कि अचानक से रेलवे की तरफ से तुगलकी फरमान सुनाया गया कि 31 जुलाई से सभी टैक्सी व ऑटो को शांतिपूर्वक हटा लिया जाए। अगर नहीं हटे तो प्रशासन की मदद से रेल परिसर से हटाया जाएगा। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00