लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Fraud of Rs 1.25 lakh in the name of sending Granthi to America for kirtan

Delhi Fraud: ग्रंथी को कीर्तन के लिए अमेरिका भेजने के नाम पर 1.25 लाख रुपये की ठगी, आरोपी ने बताई ये वजह

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: शाहरुख खान Updated Wed, 10 Aug 2022 09:59 AM IST
सार

दिल्ली में एक गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी से ठगी की गई है। ग्रंथी को अमेरिका में कीर्तन के लिए भेजने के नाम पर ठगी की वारदात को अंजाम दिया गया। पुलिस ने ठगी के आरोपी को मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अमेरिका में कीर्तन के लिए भेजने के नाम पर दिल्ली के एक गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी के साथ ठगी का मामला सामने आया है। उत्तरी जिला के साइबर थाना पुलिस ने गुत्थी को सुलझाते हुए ठगी के आरोपी को मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान संजय यादव के रूप में हुई है। 


इससे पहले ही भी आरोपी मुंबई और दिल्ली में ठगी की वारदातों में शामिल रहा है। आरोपी से 10 मोबाइल फोन के अलावा 11 डेबिट व एक आधार कार्ड बरामद हुए हैं। पिछले दिनों मजनू का टीला गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी बलदेव सिंह ने गृह मंत्रालय के साइबर क्राइम पोर्टल पर ठगी की शिकायत दी थी। 


उन्होंने बताया कि किसी अज्ञात शख्स ने उनसे मोबाइल पर संपर्क किया। उसने कहा कि वह उनको कीर्तन के लिए अमेरिका भिजवा देगा। बलदेव के राजी होने पर उसने वीजा फीस एवं मनी एक्सचेंज के नाम पर पीड़ित से अलग-अलग खातों में 1.25 लाख रुपये ले लिए। 

इसके बाद उनका नंबर ब्लाक कर दिया। उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त सागर सिंह कलसी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद साइबर थाने में 30 जुलाई को बलदेव की शिकायत के ठगी का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई। जांच के लिए थाना प्रभारी इंस्पेक्टर पवन तोमर, एसआई रंजीत व अन्यों को लगाया गया। 

पुलिस ने सबसे पहले मोबाइल कॉल और आरोपी के बैंक खातों की जांच की। कॉल डिटेल से पता चला कि आरोपी ने सभी कॉल मध्य प्रदेश के इंदौर में अलग-अलग जगहों से की थी। पुलिस ने एटीएम की सीसीटीवी फुटेज खंगालकर आरोपी की पहचान कर ली। छह अगस्त को उसे इंदौर से गिरफ्तार कर लिया गया।

बेटे की फीस जमा कराने के लिए की ठगी 
आरोपी संजय यादव ने बताया कि वह खुद ग्रेजुएट है। उसका बेटा एलएलबी कर रहा है। उसे अपने बेटे की पढ़ाई और करियर के लिए 12 लाख रुपये की जरूरत थी, इसी लिए उसने ठगी की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि वह पहले भी ठगी की इसी तरह की वारदातों को अंजाम दे चुका है। 
 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00