यूपी चुनाव 2022: जन आशीर्वाद सभा में योगी सरकार पर बरसे जयंत चौधरी, बोले- सत्ता में आने पर हर किसान को देंगे 12 हजार

माई सिटी रिपोर्टर, गाजियाबाद Published by: सुशील कुमार कुमार Updated Sat, 16 Oct 2021 09:52 PM IST

सार

जयंत चौधरी ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह हाथरस गए तो पुलिस ने उन्हें रोका, लखीमपुर गए तो पुलिस ने डंडे के बल पर रोका, लेकिन वह रुकने वाले नहीं हैं। भाजपा कुलदीप सेंगर और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र जैसे लोगों की पीठ थपथपाती है।
खैर में बोलते हुए जयंत चौधरी
खैर में बोलते हुए जयंत चौधरी - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने गाजियाबाद के मुरादनगर में जन आशीर्वाद सभा में कहा कि चुनाव आने वाले हैं, अब भाजपा वाले लोगों को तालिबान का डर दिखाकर बरगलाएंगे, लेकिन असली तालिबानी तो वो हैं जो किसानों को रौंदकर चले जाते हैं। 
विज्ञापन


जब से प्रदेश में भाजपा सरकार बनी तब से आठ हजार से ज्यादा किसानों पर यूएपीए (अन लॉ फुल एक्टिविटीज प्रीवेंशन एक्ट) के तहत कार्रवाई हो चुकी है। रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार जनसभा करने गाजियाबाद पहुंचे जयंत चौधरी ने कहा कि भाजपा कुलदीप सेंगर और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र जैसे लोगों की पीठ थपथपाती है, लेकिन किसानों से वार्ता नहीं करती। 


किसानों पर दोगुना हो गया कर्ज
प्रधानमंत्री ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था, लेकिन उन पर कर्ज दोगुना हो गया। प्रदेश के किसान गन्ना मूल्य 450 रुपये प्रति कुंतल किए जाने की उम्मीद में थे, लेकिन योगी सरकार को पंजाब के गन्ना मूल्य का भी मुकाबला नहीं कर पाई। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के कार्यकाल की याद दिलाते हुए जयंत चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में किसानों की सरकार बननी चाहिए। रालोद सत्ता में आएगी तो किसानों को 6 नहीं 12 हजार रुपये और सीमांत किसानों को 15 हजार रुपये सालाना दिए जाएंगे। 

जयंत चौधरी बोले- योगी जी अब घर पर आराम करेंगे
उन्होंने एससी वर्ग को भी साथ जोड़ने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार बनने पर वह कांशीराम की स्मृति में नरेगा की तर्ज पर नई योजना लाएंगे, ताकि मजदूर वर्ग को रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर समय टेंशन में रहते हैं। इस तनाव में वह कभी अधिकारियों को धमकाते हैं तो कभी जनता को। उनका तनाव 2022 के चुनाव में जनता दूर कर देगी। वह घर पर आराम करेंगे। उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह हाथरस गए तो पुलिस ने उन्हें रोका, लखीमपुर गए तो पुलिस ने डंडे के बल पर रोका, लेकिन वह रुकने वाले नहीं हैं। उन्होंने समर्थकों से पूछा कि आप रुकने वाले हो क्या तो पंडाल जयंत चौधरी जिंदाबाद के नारों से गूंज उठा।

शिक्षा, रोजगार, यातायात सुधारने के किए वादे
रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने यूपी की सत्ता में आने पर न केवल किसानों को बड़ी राहत देने की घोषणा की, बल्कि महंगी फीस से परेशान अभिभावकों की परेशानी भी दूर करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में फीस को नियंत्रित करने के लिए रेग्यूलेटरी अथॉरिटी बनाई जाएगी। प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था बदलेंगे। सभी सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी शिक्षा दी जाएगी और हर स्कूल में कंप्यूटर लैब बनाएंगे। यूपी में ड्रोन यूनिवर्सिटी बनाएंगे। डिजिटल लाइब्रेरी बनाकर छात्र-छात्राओं को फ्री मेंबरशिप दी जाएगी। यूपी रोडवेज की सभी बसें इलेक्ट्रिक होंगी और इनकी संख्या 11 हजार से बढ़ाकर 25 हजार की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कह रहे थे कि गंगा मां उन्हें बुला रही हैं, लेकिन गंगा की सफाई नहीं की। रालोद सत्ता में आई तो सभी नदियों को साफ किया जाएगा। 2030 तक घर-घर सीवर कनेक्शन दिए जाएंगे। हर शहर-गांव में एसटीपी बनाए जाएंगे।

पुलिस की नौकरी पाने की आयु सीमा बढ़ाएंगे
जयंत चौधरी ने कहा कि चौधरी चरण सिंह ने पहला राष्ट्रीय पुलिस आयोग गठित किया था, ताकि इस क्षेत्र में सुधार हो। उन्होंने कहा कि यूपी में पुलिस भर्ती में सिर्फ 22 साल की आयु तक युवाओं को नौकरी पाने का मौका दिया जाता है। प्रदेश में सरकार बनने पर इसकी सीमा बढ़ाकर 28 साल कर दी जाएगी। पुलिसकर्मियों की ड्यूटी के घंटे तय किए जाएंगे। उनके लिए बॉर्डर स्कीम को खत्म करेंगे, ताकि वह अपने गृह जनपदों में भी तैनाती पा सके। पुलिस भर्ती में 50 फीसदी पद महिलाओं को देंगे।

इन गांवों के लोगों ने पहनाई पगड़ी और दी धनराशि
अबूपुर, नूरपुर, पतला, खंजरपुर, पट्टी, दुहाई, फफराना, सैनी समाज, लतीफपुर, हुसैनपुर, नंगलाबैर, भदौली, सिकरोड़, ढिंढार, अमीपुर, चाकरपुर, रोरी, कादराबाद, सलेमाबाद, मनौटा, जलालाबाद, सैदपुर, खुर्रमपुर, औरंगाबाद, फजलगढ़, रजापुर, भीकनपुर, अटौर-नंगला, जलालपुर, अमराला, रावली कलां आदि गांवों से जयंत चौधरी को पगड़ी पहनाई गई। इन गांवों से कुल 21 लाख रुपये पगड़ी की रस्म में दिए गए। वहीं, गन्ना समिति के चेयरमैन अमरजीत सिंह बिड्डी ने 21 लाख रुपये देने की घोषणा की।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00