लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Three facilities of Licensing Branch will be available at DG Locker from today Lieutenant Governor of Delhi wi

सुविधा: लाइसेंसिंग ब्रांच की तीन सुविधाएं आज से डीजी लॉकर पर उपलब्ध होंगी, दिल्ली के उपराज्यपाल करेंगे उद्घाटन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Vikas Kumar Updated Thu, 06 Oct 2022 12:54 AM IST
सार

अब आपको को आर्म्स व होटल आदि का लाइसेंस साथ लेकर चलने की जरूरत नहीं है। अब दिल्ली पुलिस आपको आर्म्स लाइसेंस स्मार्ट कार्ड व होटल आदि के लाइसेंस सर्टिफिकेट डीजी लॉकर पर उपलब्ध कराने जा रही है। 

digilocker
digilocker - फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अब आपको को आर्म्स व होटल आदि का लाइसेंस साथ लेकर चलने की जरूरत नहीं है। अब दिल्ली पुलिस आपको आर्म्स लाइसेंस स्मार्ट कार्ड व होटल आदि के लाइसेंस सर्टिफिकेट डीजी लॉकर पर उपलब्ध कराने जा रही है। इसके अलावा दिल्ली पुलिस साइबर अपराध को लेकर बड़ा जागरूकता अभियान शुरू करने जा रही है। ये अभियान दिल्ली पुलिस का अब तक का सबसे बड़ा अभियान होगा। दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना बृहस्पतिवार को इनका उद्घाटन करेंगे।



दिल्ली पुलिस की लाइसेंसिंग ब्रांच के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लाइसेंसिंग ब्रांच अपनी सभी सुविधाओं को डीजी लॉकर पर उपलब्ध कराने जा रही है। उन्होंने बताया कि पहले फेज में आर्म्स स्मार्ट कार्ड सर्टिफिकेट, होटल व गेस्ट हाउस में खाने व गेस्ट हाउस का लाइसेंस सर्टिफिकेट डीजी लॉकर में उपलब्ध कराने जा रही है। अब लोगों को आर्म्स लाइसेंट स्मार्ट कार्ड को साथ रखने की जरूरत नहीं है। अब तक जितने भी लोगों ने आर्म्स लाइसेंस स्मार्ट कार्ड ले रखा है वह बृहस्पतिवार के बाद डीजी लॉकर पर देख सकते हैं व दिखा सकते हैं। दूसरे फेज में अन्य सुविधाओं को डीजी लॉकर पर उपलब्ध कराया जाएगा। गौरतलब है कि लाइसेंसिंग ब्रांच आर्म्स लाइसेंस का सर्टिफिकेट देने की बजाय स्मार्ट कार्ड देती है। 


इसके अलावा दिल्ली पुलिस की साइबर सेल बृहस्पतिवार से साइबर अपराध को लेकर जागरूकता अभियान शुरू किया जा रहा है। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो की एक रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में पिछले वर्ष की तुलना में 2021 में साइबर अपराध में 111 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। मामले बढ़ने का सबसे बड़ा कारण यौन शोषण बताया जा रहा है। आंकड़ों के अनुसार इनमें मामले ऑनलाइन धोखाधड़ी, यौन लाइन उत्पीडन व कामुक सामग्री के प्रकाशन से जुड़े हैं। आंकड़ों के विश्लेषण से पता चला है कि इन अपराध को अंजाम देने का मकसद धोखाधड़ी, यौन शोषण व जबरन वसूली करना था। शिकायत करने वालों में ज्यादातर 12 से 17 वर्ष की नाबालिग लड़कियां थीं। ऐसे में दिल्ली पुलिस साइबर अपराध के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान शुरू कर रही है। इसके तहत शुरूआती चार महीनों में स्कूली छात्र-छात्राओं को जोड़ा जाएगा। खासकर छात्राओं को साइबर अपराध को लेकर जागरूक किया जाएगा। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के पुलिस अधिकारियों का कहना है कि साइबर अभियान को लेकर ये अभी तक जागरूकता अभियान होगा। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00