लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi Transport Minister gave green signal to 32 AC buses, now the total number of buses is 6793

परिवहन मंत्री ने 32 एसी बसों को दिखाई हरी झंडी, अब बसों की कुल संख्या हुई 6793

डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Harendra Chaudhary Updated Mon, 16 Aug 2021 08:10 PM IST
सार

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि पैनिक बटन को दबाते ही इसकी सूचना कंट्रोल रूम को हो जाएगी और वह बस की लाइव लोकेशन जान सकेगा...

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत
दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत - फोटो : एएनआई (फाइल)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने 32 एसी लो फ्लोर बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये बसें अत्याधुनिक सुरक्षा उपायों से लैस हैं। इनमें पैनिक बटन, फायर डिटेक्शन एंड सप्रेशन और लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग सुविधाएं शामिल हैं। इसके साथ ही दिल्ली में बसों की संख्या बढ़कर 6793 हो गई है। इनमें डीटीसी की 3760 और निजी क्षेत्र के क्लस्टर सेवा की 3033 बसें शामिल हैं। इससे राजधानी के परिवहन व्यवस्था में सुधार आएगा।



परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि पैनिक बटन को दबाते ही इसकी सूचना कंट्रोल रूम को हो जाएगी और वह बस की लाइव लोकेशन जान सकेगा। इसके बाद वह परिस्थिति को देखते हुए आवश्यक कदम उठा सकेगी। उन्होंने कहा कि इससे बसों में महिलाओं को ज्यादा सुरक्षा का अहसास होगा जो कि सरकार की प्राथमिकता है। सरकार ने मार्च 2020 से अब तक 452 लो फ्लोर एसी बसें बीएस 6 की गुणवत्ता का पालन करने वाली बसें दिल्ली को समर्पित की हैं।

निजी बसों का श्रेय क्यों ले रहे मंत्री

वहीं, भाजपा नेता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा कि ये निजी क्षेत्र द्वारा लाई गई बसें हैं और इसका श्रेय सरकार को नहीं लेना चाहिए। कपूर के मुताबिक, दिल्ली की विशाल आबादी को देखते हुए बसों की संख्या बेहद कम है और सरकार को तत्काल डीटीसी में 3000 से ज्यादा बसें जोड़ना चाहिए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00