लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Gorakhpur ›   dead body of three youths found in gorakhpur

Gorakhpur: गोरखपुर जिले में तीन युवकों की मिली लाश, हत्या की आशंका

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Published by: vivek shukla Updated Sat, 01 Oct 2022 02:50 PM IST
सार

कुसम्ही बाजार प्रतिनिधि के अनुसार कैंट इलाके में नंदानगर अंडरपास के पास झाड़ी में नेपाली युवक की लाश मिली। उसकी पहचान नेपाल के भुटवल निवासी शिवा थापा (27) के रूप में हुई। गले के पास चोट के निशान होने की वजह से स्थानीय लोगों ने हत्या की आशंका जताई है।

सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

गोरखपुर जिले के कैंट, खोराबार और सहजनवां इलाके में बृहस्पतिवार रात से शुक्रवार सुबह के बीच तीन युवकों की लाश मिली। मौत की वजह जानने के लिए पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। तीनों युवकों के शरीर पर चोट के निशान होने की वजह से हत्या की आशंका जताई जा रही है।



कुसम्ही बाजार प्रतिनिधि के अनुसार कैंट इलाके में नंदानगर अंडरपास के पास झाड़ी में नेपाली युवक की लाश मिली। उसकी पहचान नेपाल के भुटवल निवासी शिवा थापा (27) के रूप में हुई। गले के पास चोट के निशान होने की वजह से स्थानीय लोगों ने हत्या की आशंका जताई है। जबकि, पुलिस प्रथम दृष्टया खुदकुशी बताकर जांच कर रही।


जानकारी के मुताबिक, शिवा थापा नंदानगर में किराये का कमरा लेकर पिता के साथ रहता था। सैनिक बिहार सेक्टर बी कॉलोनी में स्थित प्राइवेट स्कूल की बस चलाता था। पिता श्याम थापा बस में खलासी का काम करते हैं। श्याम थापा ने बताया कि शिवा दो भाइयों में छोटा था। बड़े भाई की करीब 10 साल पहले नंदानगर इलाके में ही सड़क हादसे में मौत हो गई थी। ऐसे में दूसरे बेटे की भी मौत की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया।

खोराबार प्रतिनिधि के अनुसार इलाके के डुहिया गांव में राप्ती नदी के किनारे बृहस्पतिवार रात युवक की लाश मिली। उसकी पहचान महराजगंज जिले के फरेंदा इलाके के महदेवा बुजुर्ग फरेंछा निवासी रामकेवल (40) के रूप में हुई है। शुक्रवार को थाने पहुंचे गांव के लोगों के पहचान की। उसके शरीर पर पुलिस को कोई चोट के निशान नहीं मिले हैं।

थाने पहुंचे गांव के लोग और रिश्तेदारों ने बताया कि रामकेवल के नाम से फरेंदा थाने के पास दो डिसमिल कीमती जमीन थी। गांव के एक व्यक्ति ने दो माह पहले बहला फुसला कर 80 हजार रुपये में अपने नाम से बैनामा करवा लिया। पत्नी को जब इसकी जानकारी हुई तो वह आपत्ति दाखिल कर दी। जिससे रामकेवल डिप्रेशन में आ गया और वह घर से निकल गया। वह मजदूरी करता था।

मां-बाप का इकलौता बेटा था अंकित
इलाके के वार्ड नंबर 14 लुचुई में विद्यालय के बगल में अंकित श्रीवास्तव (22) की लाश मिली। वह पाली का निवासी था। मां ने बताया कि बृहस्पतिवार शाम अंकित घर से निकला था और छह बजे मोबाइल फोन बंद हो गया। गले पर निशान होने से मां ने हत्या की आशंका जताई है। वह मां-बाप का इकलौता बेटा था। अंकित वार्ड के एक शख्स के अगरबत्ती बनाने के काम में मदद करता था। प्रभारी निरीक्षक मानवेंद्र पाठक ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00