लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Karnal ›   दुर्गा अष्टमी पर देशभक्ति के गीतों से गूंजा शक्तिपीठ

दुर्गा अष्टमी पर देशभक्ति के गीतों से गूंजा शक्तिपीठ

Karnal Updated Sat, 20 Apr 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
कुरुक्षेत्र। श्री दुर्गा अष्टमी पर आयोजित विशाल भगवती जागरण देशभक्ति के गीतों से शुरू होकर तारा देवी की कथा और मां भद्रकाली के गुणगान के साथ राम नवमी को संपन्न हो गया। दुर्गा अष्टमी पर जागरण के लिए शक्तिपीठ के प्रांगण में मां भगवती का भव्य दरबार सजाया गया। सजावटी सामग्री, रंग-बिरंगी लाइटों और तिरंगे गुब्बारों के अलावा पुष्पों से सजा मां भगवती का दरबार श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बना रहा। इस अवसर हरियाणा पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक के सेल्वराज, करनाल की डीसी रेणु फूलिया और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव हुकम चंद गुप्ता, पीठाध्यक्ष पंडित सतपाल शर्मा सहित अन्य कई अधिकारियों व गणमान्य अतिथियों ने शक्तिपीठ में पूजा कर मां से दुआएं मांगीं और इसके बाद मां की पवित्र जोत के साथ जागरण में शिरकत की। जागरण के दौरान मां भद्रकाली की भव्य झांकी के अलावा शिव-पार्वती नृत्य और ब्रज में गोपियों संग खेलते गोपाल श्रीकृष्ण की झांकियां आकर्षण का केंद्र बनीं रहीं। ‘हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की’, ‘मैं क्यों ना नाचूं, आज मेरे घर मैया आई है’ सहित अन्य भजनों और विशेष कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ दी गई प्रस्तुति ने समां बांध दिया। वहीं, कुमार विशु बांबे, जिन्हाेंने अपनी मधुर वाणी से महामाई का गुणगान किया और राजू प्रिंस ने नृत्य के माध्यम से माँ भगवती भद्रकाली की आराधना की। पीठाध्यक्ष पंडित सतपाल शर्मा, दिल्ली कांग्रेस प्रदेश कमेटी के सचिव हुकम चंद गुप्ता ने सबसे पहले मंदिर परिवार के साथ मिलकर मां भद्रकाली का पूजन किया। अतिथियों और मां भद्रकाली सेवक मंडल के अध्यक्ष नरेंद्र वालिया नेे सभी भक्तों के साथ मिलकर जागरण में ज्योति पूजन किया। सबसे पहले भारत मां के चरणों मेें नमन करते हुए भारत मां की झांकी निकाली गई। सभी ने खडे़ होकर भारत माँ के चरणों में नमन किया। उसके बाद राजू प्रिंस ने भगवान श्रीकृष्ण के नृत्य से सबका मन मोह लिया। मंच पर नवदुर्गा का स्वरूप धरी बालिकाओं का पूजन कर भक्तों को कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ संकल्प दिलवाया गया। मां सरबती देवी को श्रद्धांजलि देते हुए ‘मेरी झोली छोटी पड़ गई रे तूने इतना दिया मेरी माता’ पर नृत्य प्रस्तुत किया गया। मंदिर को 108 लाल ध्वजों से सजाया गया। पंडाल में लाल और सफेद रंग के गुबारे लगाए गए। तिरंगे के सम्मान में केसरिया, सफेद और हरे रंग के गुबारे हवा में छोडे़ गए। माता शिमला देवी ओर सीआर मोद्गिल ने सभी भक्तों के लिए मंगल कामना की। विशेष तौर पर कांग्रेसी नेता सुभाष सुधा, थानेसर नगर परिषद की अध्यक्ष उमा सुधा, मेहरचंद वालिया, जागरण सेवा समिति, शोभायात्रा सेवा समिति के सदस्यों सहित मां भद्रकाली महिला संकीर्तन मंडल के सदस्यों ने भी मंदिर जागरण में अपनी हाजिरी लगाई।


भोग और भंडारे के साथ नवरात्रोत्सव संपन्न
हरियाणा के एकमात्र शक्तिपीठ श्रीदेवीकूप भद्रकाली मंदिर में पिछले नौ दिन से जारी नवरात्रोत्सव के समापन अवसर पर भंडारा समर्पण किया गया, जिसमें हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। राम नवमी पर शक्तिपीठ में सुबह जागरण का भोग पड़ा। इस पावन अवसर पर श्रद्धालुओं की शक्तिपीठ में कतारें लगी रही।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00