लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Panipat ›   20 years imprisonment, 25 thousand rupees fined for misdeed with eight year old innocent child

पानीपत: आठ वर्षीय मासूम बच्चे से कुकर्म के दोषी को 20 साल की सजा, 25 हजार रुपये जुर्माना

संवाद न्यूज एजेंसी, पानीपत (हरियाणा) Published by: अमर उजाला ब्यूरो Updated Tue, 29 Mar 2022 02:12 AM IST
सार

इसराना थाना क्षेत्र का मामला है। अतिरिक्त सत्र एवं जिला न्यायाधीश सुमित गर्ग की अदालत ने फैसला सुनाया। मामले की सुनवाई करीब दो साल चली। 25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है।

court demo
court demo - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पानीपत के इसराना थाना क्षेत्र में आठ वर्षीय मासूम बच्चे के साथ कुकर्म करने वाले विश्वकर्मा कॉलोनी निवासी राकेश को दोषी पाते हुए अतिरिक्त सत्र एवं जिला न्यायाधीश की अदालत ने 20 साल की सजा सुनाई है। साथ ही दोषी पर 25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है।



इसराना थाना पुलिस को दी शिकायत में एक महिला ने बताया था कि उसके तीन बच्चे हैं। सबसे छोटा बेटा आठ वर्ष का है, जो दूसरी कक्षा का छात्र है। आरोप है कि राकेश और राहुल उसे बहला फुसलाकर अपने साथ ले गए। इसके बाद राहुल के घर पर राकेश ने उसके साथ गलत काम किया। इस दौरान राहुल ने उसका वीडियो भी बनाया।


इसके बाद आरोपियों ने चाकू दिखाकर धमकाया कि अगर किसी को बताया तो जान से मार देंगे। डर के मारे बेटे ने घर पर भी कुछ नहीं बताया, लेकिन डरे सहमे बेटे के व्यवहार में आए बदलाव को लेकर जब परिजनों ने गंभीरता से पूछताछ की तो कुकर्म का खुलासा हुआ। घटना के एक सप्ताह बाद 18 मार्च 2020 को बेटे ने जब सारी बात बताई तो मां की ओर से पुलिस को शिकायत दी गई।

इस पर इसराना थाना पुलिस ने पोक्सो एक्ट छह, आईपीसी की धारा 506 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी थी। आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। लगभग दो साल तक चली सुनवाई के बाद अदालत ने बच्चे के साथ कुकर्म में राकेश को दोषी पाया और 20 साल की सजा तथा 25 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00