कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: निहंग भगवंत सिंह और गोविंद प्रीत का आत्मसमर्पण, अरदास कर खुद को किया पुलिस के हवाले

संवाद न्यूज एजेंसी, सोनीपत (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Sat, 16 Oct 2021 10:33 PM IST

सार

गिरफ्तारी से पहले निहंगों ने दोनों साथियों को सरोपा भेंट किया। इसके बाद उन्होंने एसएचओ कुंडली के सामने आत्मसमर्पण किया। पुलिस आरोपियों को रविवार को अदालत में पेश करेगी।
भगवंत सिंह व गोविंद प्रीत ने किया आत्मसमर्पण
भगवंत सिंह व गोविंद प्रीत ने किया आत्मसमर्पण - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी के आरोप में लखबीर सिंह की हत्या के मामले में आरोपी दो निहंगों ने शनिवार रात साढ़े नौ बजे कुंडली थाना में आत्मसमर्पण कर दिया। कुंडली थाना प्रभारी रवि कुमार ने उनका आत्मसमर्पण कराया। दोनों आरोपियों को रविवार को अदालत में पेश किया जाएगा। आत्मसमर्पण से पहले साथी निहंगों ने दोनों को सरोपा पहनाकर सम्मानित किया। वहीं, इससे पहले शनिवार को ही पंजाब से एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है। 
विज्ञापन


कुंडली बॉर्डर पर आंदोलन स्थल के पास वीरवार रात को पंजाब के तरनतारन के गांव चीमा खुर्द के लखबीर सिंह की हत्या कर दी गई थी। हत्या की जिम्मेदारी निहंगों ने ली थी। लखबीर पर धार्मिक ग्रंथ से बेअदबी करने का आरोप था। व्यक्ति की बेरहमी से हत्या करने और बेरिकेड पर लटकाने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी थी। अब तक पंजाब और हरियाणा पुलिस द्वारा चार आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।


यह भी पढ़ें: कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: हरियाणा पुलिस ने दो और निहंगों को किया गिरफ्तार, अब तक चार आरोपी हो चुके अरेस्ट

मामले में एडीजीपी संदीप खिरवार, डीसी ललित सिवाच और एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा खुद पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। मामले में शुक्रवार शाम को निहंग सर्बजीत सिंह ने पुलिस टीम के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। उसे रिमांड पर लिया गया है। शनिवार को पंजाब पुलिस की ओर से आरोपी नारायण सिंह को अमृतसर जिले के जंडियाला गुरु के पास अमरकोट गांव से गिरफ्तार किया गया।

शनिवार रात को मामले में दो और निहंगों ने कुंडली थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रवि कुमार के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। जिसमें निहंग भगवंत सिंह व गोविंद प्रीत शामिल है। इससे पहले साथी निहंगों ने दोनों को सरोपा पहनाया और धार्मिक नारे लगाए। दोनों ने गुरु ग्रंथ साहिब के सामने मत्था टेककर अरदास की। इस दौरान पुलिस बल वहीं खड़ा रहा। एचएचओ रवि कुमार की टीम ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00