लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   2002 Gujarat riots HC grants interim bail to ex DGP RB Sreekumarss

Gujarat Riots 2002: आरबी श्रीकुमार को हाईकोर्ट से मिली अंतरिम जमानत, 25 जून को किए गए थे गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अहमदाबाद Published by: निर्मल कांत Updated Wed, 28 Sep 2022 09:06 PM IST
सार

गुजरात के पूर्व डीजीपी आरबी श्रीकुमार को हाईकोर्ट से 19 नवंबर तक के लिए अंतरिम जमानत मिल गई है। 

Gujarat High Court
Gujarat High Court
ख़बर सुनें

विस्तार

गुजरात के पूर्व पुलिस महानिदेशक आरबी श्रीकुमार को हाईकोर्ट से 15 नवंबर तक के लिए अंतरिम जमानत मिल गई है। उन्हें 2022 के सांप्रदायिक दंगों के मामले में कथित तौर पर सबूत गढ़ने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उनके साथ सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतवाड़ को भी गिरफ्तार किया गया था। हालांकि सीतलवाड़ को 2 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम जमानत मिल गई थी। 


अहमदाबाद पुलिस की क्राइम ब्रांच ने 25 जून को श्रीकुमार को गिरफ्तार किया था। तब सेवह पुलिस की हिरासत में थे। न्यायमूर्ति इलेश जे वोरा ने दस हजार रुपये के व्यक्तिगत मुचलके के आधार पर 15 नवंबर तक के लिए अंतरिम जमानत को मंजूरी दी। 


पूर्व डीजीपी के वकील ने हाईकोर्ट को उनकी उम्र का हवाला देते हुए राहत की मांग की थी। उन्होंने अदालत को यह भी बताया कि आवेदक संबंधित निचली अदालत के समक्ष एक नया आवेदन दाखिल करना चाहता है। 

हाईकोर्ट कथित तौर पर सबूतों को गढ़ने के मामले में एक अन्य आरोपी तीस्ता सीतलवाड़ की नियमित जमानत याचिका पर भी सुनवाई कर रहा था। उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने निचली अदालत को एसआईटी द्वारा 21 सितंबर को दाखिल चार्जशीट के कागजात सीतलवाड़ के वकील को सौंपने का निर्देश दिया। हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 15 नवंबर तय की है। 

अदालत ने श्रीकुमार को जेल से रिहा होने के एक सप्ताह के भीतर अपना पासपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया। उन्हें संबंधित अदालत में नई जमानत अर्जी दाखिल करने की भी छूट दी गई। वहीं लोक अभियोजक ने श्रीकुमार को राहत देने का विरोध किया और कहा कि कथित अपराध में उनकी भूमिका को देखते हुए अंतरिम जमानत देने का कोई मामला नहीं बनता है। 

30 जुलाई को अहमदाबाद की एक सत्र अदालत ने सीतलवाड़ और श्रीकुमार की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। 25 जून को उन्हें गिरफ्तार किया गया था। एसआईटी ने 21 सितंबर को सीतलवाड़, श्रीकुमार और मामले के अन्य आरोपी पूर्व आईपीएस संजीव भट्ट के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00