लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu ›   DG Lohia Murder: accused Yasir Lohar work at the dhaba, always kept sharp weapons bag

DG Lohia Murder: पहले ढाबे पर काम करता था आरोपी यासीर लोहार, बैग में हमेशा ही रखता था धारदार हथियार

अमर उजाला नेटवर्क, जम्मू Published by: विमल शर्मा Updated Fri, 07 Oct 2022 02:10 AM IST
सार

सूत्रों का कहना है कि यासिर डीजी लोहिया का हेल्पर बनने से पहले एक सीनियर अफसर के घर पर बतौर हेल्पर काम करता था। इसके बाद वह 4 दिन एक अन्य आईपीएस अफसर के घर पर भी रहा।

आरोपी नौकर और डीजीपी जेल हेमंत कुमार लोहिया(फाइल फोटो)
आरोपी नौकर और डीजीपी जेल हेमंत कुमार लोहिया(फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

डीजी जेल हेमंत कुमार लोहिया की हत्या मामले में तीन दिन बाद भी अधिकारिक तौर पर खुलासा नहीं हुआ है। वहीं, बताया जाता है कि आरोपी यासिर लोहार के पास टोका (हथियार) कई महीनों से था, जिसे वह बैग में रखता था।



दरअसल, यासिर डीजी जेल के पास आने से पहले वह एक ढाबे पर काम करता था। यहां उसके पास काम करने के लिए एक टोका था, जिसे वह साथ ही रखता था। वारदात के दिन भी टोका उसके बैग में था।


सूत्रों का कहना है कि यासिर डीजीपी लोहिया का हेल्पर बनने से पहले एक सीनियर अफसर के घर पर बतौर हेल्पर काम करता था। इसके बाद वह 4 दिन एक अन्य आईपीएस अफसर के घर पर भी रहा।

यहां से उसे निकाल दिया गया। इसके बाद यासिर हेमंत लोहिया के दोस्त राजीव खजुरिया के घर ही रहता था। सूत्रों का कहना है कि यासिर नौकरी न मिलने से काफी आहत था। अब उसे किस-किस ने नौकरी का आश्वासन दिया था, यह जांच का विषय है। 

मजिस्ट्रेट के सामने यासिर के बयान दर्ज, पुलिस अधिकारी अब भी चुप 

डीजी जेल हेमंत कुमार लोहिया की हत्या मामले में गिरफ्तार आरोपी यासिर को पुलिस ने वीरवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। यहां उसके 164 के तहत बयान दर्ज किए गए। संभव है कि पुलिस की ओर से एक दो दिन के भीतर मामले को लेकर आधिकारिक तौर पर जानकारी साझा की जाए। हालांकि अभी तक पुलिस अधिकारी चुप हैं। 

डीजी जेल हेमंत कुमार लोहिया की हत्या मामले में वारदात के बाद डीजीपी दिलबाग सिंह और एडीजीपी मुकेश सिंह को ओर से आरोपी यासिर के गिरफ्तार होने तक जानकारी साझा की जा रही थी। लेकिन आरोपी के गिरफ्तार होने के बाद यासिर ने क्या बताया, इस पर पुलिस महकमा चुप है। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00