लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu ›   jammu police investigated Suspected of being involved in drug smuggling by staying on rent in city

Jammu City: कौन हो, कहां से आए... जांचने में जुटी पुलिस, किराये पर रहकर नशा तस्करी में शामिल होने का शक

अजय मीनिया, जम्मू Published by: kumar गुलशन कुमार Updated Wed, 28 Sep 2022 01:54 PM IST
सार

पुलिस की टीम दोनों इलाकों में सभी घरों का सर्वेक्षण करके इनकी जानकारी जुटा रही है। किस घर में कौन कौन रहता है, क्या काम करता है, कब से रहता है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस
जम्मू-कश्मीर पुलिस - फोटो : PTI (File Photo)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जम्मू शहर के राजीव नगर और कासिम नगर में बड़े स्तर पर लोगों के नशा तस्करी में शामिल होने के शक पर पुलिस की ओर से घर-घर से जानकारी जुटाने का काम शुरू किया गया है। पुलिस को शक है कि इन इलाकों में बड़े स्तर पर बाहर के लोग आकर रह रहे और नशे की तस्करी में संलिप्त हैं।



आंकड़े भी बताते हैं कि इन क्षेत्रों में नशा तस्करी किस कदर हो रही है। हर महीने इन दो इलाकों में औसत 4 मामले नशा तस्करी के दर्ज हो रहे हैं, जबकि इन दोनों इलाकों में एक साल में 5 महिला तस्करों को भी गिरफ्तार किया जा चुका है।


सूत्रों का कहना है कि पुलिस की टीम दोनों इलाकों में सभी घरों का सर्वेक्षण करके इनकी जानकारी जुटा रही है। किस घर में कौन कौन रहता है, क्या काम करता है, कब से रहता है और यदि कोई किराये पर रहता है या फिर मकान खरीद कर रह रहा है, तो वह किस जगह से आया है। पुलिस को शक है कि बड़े स्तर पर बाहर के लोग इन इलाकों में आकर रहने लगे हैं। यह लोग बाहरी राज्यों के हैं और नशा तस्करी में संलिप्त हैं। आठ महीनों में राजीव नगर और कासिम नगर में नशा तस्करी 25 मामले दर्ज हो चुके हैं। यह दोनों ऐसे इलाके हैं, जहां पर सबसे अधिक नशा तस्करी के मामले दर्ज हो रहे हैं।

कहां-कहां के लोग रह रहे

सूत्रों का कहना है कि इन इलाकों में पंजाब, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, नेपाल, बिहार के बड़े स्तर पर लोग रहे हैं, जो नशा तस्करी में संलिप्त हैं। पहले यह लोग गांजा और चरस की तस्करी करते थे। वहीं, अब हेरोइन की तस्करी में भी शामिल हो रहे हैं, क्योंकि इनको मोटी कमाई हो रही है।

महिला तस्करों की भी पहचान
पुलिस ने 7 से 8 महिलाओं की भी पहचान की है, जो इन इलाकों में नशा तस्करी कर रही हैं। इन पर कार्रवाई करने के लिए विशेष नजर रखी जा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00