Hindi News ›   Jobs ›   Government Jobs ›   RRB NTPC Results union railway minister Ashwini Vaishnaw done press conference on the matter of ntpc cbt 1 result, know the answers of important questions

RRB NTPC Result controversy: छात्रों के जारी विरोध के बीच रेल मंत्रालय की प्रेस कांफ्रेंस, जानिए सभी जरूरी सवालों के जवाब

जॉब डेस्क, अमर उजाला Published by: सुभाष कुमार Updated Wed, 26 Jan 2022 04:55 PM IST

सार

RRB NTPC Results: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने परीक्षा में देरी के सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि आरआरबी एनटीपीसी भर्ती के लिए एक करोड़ से अधिक आवेदन प्राप्त हुए। इस परीक्षा को आयोजित कराने के लिए एजेंसी को हायर करने में 6 महीने का समय लगा।
केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव
केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव - फोटो : twitter.com/AshwiniVaishnaw
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

RRB NTPC Results: रेलवे एनटीपीसी परिणामों को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। परिणाम के जारी होने के बाद से ही अभ्यर्थी इस में अनियमितता का आरोप लगा रहे हैं। हालांकि, रेलवे ने छात्रों की शंका को दूर करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर सफाई भी जारी की थी, लेकिन छात्रों ने इस बात को साफ नकार दिया है। अब धीरे-धीरे छात्रों का विरोध आंदोलन का रूप लेने लगा है। बिहार और उत्तर प्रदेश से चलने वाली अनेक ट्रेनों पर भी इसका असर पड़ा है। कई ट्रेनें रोक दी गई हैं और छात्रों ने बिहार के गया में पैसेंजर ट्रेन को आग के हवाले कर दिया है। इस बीच रेल मंत्रालय ने भी आज 3.30 बजे एक प्रेस कांफ्रेंस की। इस कांफ्रेंस में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सभी जरूरी सवलों के जवाब दिए...

RRB NTPC Results: परीक्षा में क्यों हुई देरी?
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने परीक्षा में देरी के सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि आरआरबी एनटीपीसी भर्ती के लिए एक करोड़ से अधिक आवेदन प्राप्त हुए। इस परीक्षा को आयोजित कराने के लिए एजेंसी को हायर करने में 6 महीने का समय लगा। ग्रुप डी भर्ती के लिए जो आवेदन प्राप्त हुए, इनमें से करीब 5 लाख अभ्यर्थियों के आवेदन पत्र में फोटो और हस्ताक्षर की त्रुटियां थी। इसके खिलाफ विभिन्न ट्रिब्यूनल में जरूरी कार्यवाही हुई। इसके बाद सभी जरूरी प्रक्रिया पूरी करने के बाद परीक्षा का आयोजन हुआ। करोड़ों लोगों की परीक्षा कराना बड़ा टास्क है। कोरोना के फेज में देरी हुई, लेकिन परीक्षा की प्रक्रिया चालू रही। पीएम मोदी का मकसद रोजगार बढ़ाने का है। एक लाख 40 हजार वैकेंसी लाना कोई छोटी बात नहीं है।

RRB NTPC Results: शॉर्टलिस्ट का मु्द्दा
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सीबीटी-1 में छात्रों के शॉर्टलिस्ट संख्या के चयन के मुद्दे पर कहा कि साल 2015 तक परीक्षा में केवल 10 गुणा छात्रों को शॉर्टलिस्ट किया जाता था। इसके बाद साल 2019 तक 15 गुणा और वर्तमान में परीक्षा में कुल 20 गुणा छात्रों को शॉर्टलिस्ट किया जा रहा है। हमने नोटिफिकेशन में बताई गई प्रक्रिया के हिसाब से ही परीक्षा ली है।  मुद्दा इसलिए उठा है कि जिन लोगों ने तैयारी कर ली है, उन्हें लगता है हमें एक बार फिर मौका मिले।

RRB NTPC Results: छात्रों पर लाठीचार्ज और एफआईआर का मुद्दा
छात्रों पर लाठीचार्ज के मुद्दे पर रेल मंत्री ने कहा कि कुछ लोग मामले का गलत फायदा उठाकर छात्रों को भ्रमित करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने छात्रों को कहा कि अपनी ही संपत्ति को जलाना सही नहीं हैं। ऐसे कार्य पर पुलिस अपनी जरूरी कार्रवाई करेगी। हम संवेदनशिलता से पूरे मुद्दे को सुलझाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। छात्र औपचारिक रूप से अपनी समस्या सामने रखें, हम उस पर विचार करेंगे।

RRB NTPC Results: 16 फरवरी तक समस्या दर्ज कराएं
रेल मंत्री ने आगे कहा कि कहा कि छात्रों को अपनी समस्या दर्ज कराने के लिए 3 हफ्ते यानी 16 फरवरी, 2022 तक का समय दिया गया है। मामले को सुलझाने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों की एक समिति गठित की गई है। यह सभी समस्याओं की समीक्षा के बाद 4 मार्च या इससे पहले तक अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। इसके बाद जितनी जल्दी हो सके इस भर्ती की सभी जरूरी प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

 रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00