लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   A man murdered baburiha kheda in gosaiganj in Lucknow.

Murder in Lucknow: गला रेतकर अधेड़ की हत्या, बिस्तर पर पड़ा मिला खून से लथपथ शव, दो हिरासत में

संवाद न्यूज एजेंसी, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Sun, 25 Sep 2022 10:10 AM IST
सार

गोसाईंगंज के बबुरिहा खेड़ा में देर रात हुई वारदात में एक युवक का शव बिस्तर पर खून से लथपथ हालत में पड़ा मिला है। बेटे की तहरीर पर आरोपी पिता-पुत्र सहित पांच पर हत्या का केस दर्ज कराया गया है।

रमेश कुमार
रमेश कुमार - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

लखनऊ के गोसाईंगंज के बबुरिहा खेड़ा निवासी रमेश कुमार (45) की शुक्रवार देर रात को गला रेतकर हत्या कर दी गई। उसका शव घर में बिस्तर पर खून से लथपथ पड़ा मिला। सुबह रमेश का खून से लथपथ शव देखकर परिजनों के होश उड़ गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रमेश के बेटे ने पिता-पुत्र सहित पांच के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया है। आरोपी पिता-पुत्र को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।



डीसीपी दक्षिणी राहुल राज के मुताबिक, रमेश के परिवार में मां सुखरानी, पत्नी, बेटा अवधेश, रजनीश, अवधेश की गर्भवती पत्नी, बहन रेनू है। रेनू की शादी नगराम में हुई है। शुक्रवार को वह भी बबुरिहा खेड़ा में ही थी। डीसीपी के मुताबिक, गांव में मकान दो हिस्सों में है। एक पुराना और दूसरा हिस्सा नया बना है। रमेश का खून से लथपथ शव नवनिर्मित मकान के आंगन में मिला।


पूछताछ में सामने आया कि दरवाजा चिपकाया गया था। कुंडी नहीं लगी थी। रमेश का गला चाकू से रेता गया है। प्रभारी निरीक्षक विनय सिंह के मुताबिक, फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए है। सर्विलांस की टीम ने गांव पहुंच कर छानबीन कर रही है। मृतक के करीबी भी राडार पर हैं। मौके पर सक्रिय मिले कुछ नंबरों की डिटेल निकाली जा रही है। 

शुक्रवार शाम को हुआ था विवाद
एडीसीपी दक्षिणी मनीषा सिंह के मुताबिक, रमेश की शुक्रवार शाम को नेवल खेड़ा निवासी रिश्तेदार राम सिंह से कहासुनी हुई। इसके बाद उसके बेटे रामभोला और बेटियों वंदना व अर्चना ने उसकी पिटाई कर दी थी। देर रात को पीआरवी की टीम रमेश के घर गई थी। बेटे अवधेश ने बताया कि पिता अक्सर शराब के नशे में विवाद कर लेते हैं। अभी खाना खाकर सो रहे हैं। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कराने की बात कहकर लौट गई थी। परिजनों ने राम सिंह के परिवार पर हत्या का संदेह जताया है।

बार-बार बयान बदल रहे परिजन
पुलिस के मुताबिक, परिजन कई बार बयान बदल चुके हैं। पहले बताया कि रात को रमेश को पुराने मकान में सुलाया था, लेकिन वह नए मकान के आंगन में कैसे पहुंचे। इसका जवाब परिजन नहीं दे पा रहे हैं। नए मकान की छत पर दोनों बेटे, बहन व मां सोई थी। रमेश की पत्नी पुराने मकान में गर्भवती बहू के साथ सो रही थी। सवाल है कि एक ही मकान में छत व आंगन में सो रहे पिता की हत्या होती है और बेटों व बेटियों को आहट तक नहीं हुई। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00