बलरामपुर: ट्रैक्टर से कुचलकर भाजपा नेता की हत्या, परिजनों ने शव रखकर किया प्रदर्शन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बलरामपुर Published by: ishwar ashish Updated Mon, 18 Oct 2021 06:27 PM IST

सार

बलरामपुर में भाजपा नेता की ट्रैक्टर से कुचलकर कर हत्या कर दी गई है। हत्या से नाराज परिजनों ने सड़क पर शव रखकर प्रदर्शन किया।
सड़क पर शव रखकर प्रदर्शन करते परिजन व अन्य।
सड़क पर शव रखकर प्रदर्शन करते परिजन व अन्य। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरैया सतघरवा के स्थानीय थाना क्षेत्र निवासी भारतीय जनता पार्टी के सेक्टर संयोजक की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या कर दी गई। परिजनों का आरोप है कि मृतक को गोली भी मारी गई है। हत्या से नाराज परिजनों तथा समर्थकों ने सड़क पर शव रखकर हंगामा शुरु कर दिया है। मौके पर भारी फोर्स तैनात की गई है। लोग आरोपी की गिरफ्तारी तथा मौके पर डीएम व एसपी को बुलाने पर अड़े हुए हैं। हालांकि अभी तक पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है।
विज्ञापन


मिली जानकारी के अनुसार ग्राम बल्दीडीह निवासी भाजपा के सेक्टर संयोजक कृष्ण प्रकाश शुक्ला उर्फ पप्पू सोमवार सुबह भड़सहिया बाजार से वापस गांव लौट रहे थे। पप्पू के भाई राजेश कुमार शुक्ला ने बताया कि कुसमहवा तथा भड़सहिया बाजार के बीच महंत भट्ठे के पास उन्हें ट्रैक्टर से ठोकर मारा गया। पप्पू जान बचाने के लिए धान के खेत में भागे तो चालक ने खेत में उन्हें कुचलकर मार डाला। घटना के बाद आरोपी मौके पर ट्रैक्टर व बाईक छोड़कर फरार हो गए हैं।


राजेश ने बताया कि मृतक गांव के प्रधान प्रतिनिधि हैं। उन्होंने पिछड़े वर्ग की महिला को चुनाव लड़ाकर जिताया था। घटना से आक्रोशित परिजनों तथा समर्थकों ने भड़सहिया बाजार में सड़क पर शव रखकर चक्का जाम कर दिया। लोग पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगा रहे हैं। लोगों का कहना है कि मृतक के ऊपर इससे पूर्व भी जानलेवा हमला हुआ था। इस हमले के आरोपी इस समय जेल से बाहर हैं। परिजनों का यह भी आरोप है कि कुचलने से पहले मृतक को गोली भी मारी गई है।

मौके पर मौजूद सीओ प्रभात कुमार, प्रभारी निरीक्षक जयदीप दूबे तथा कई अन्य थानों की फोर्स लोगों को समझाने बुझाने में जुटी है। परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी तथा मौके पर डीएम व एसपी को बुलाए जाने की मांग पर अड़े हुए हैं। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि परिजनों ने अभी कोई तहरीर भी नहीं दी है। तहरीर मिलने पर केस दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

9 माह पूर्व मारी गई थी गोली

केपी शुक्ला उर्फ पप्पू को पुरानी रंजिश के चलते करीब 9 माह पूर्व गोली मारी गई थी। इस हमले में वह बच गए थे। पप्पू की तहरीर पर पुलिस ने जितेन्द्र पांडेय के खिलाफ जानलेवा हमले का केस दर्ज कर जेल भेजा था। आरोपी इस समय जमानत कर जेल से बाहर हैं। घटना को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। मृतक के परिजन लगातार आरोप लगा रहे हैं कि यदि स्थानीय पुलिस ने मृतक की शिकायतों को गंभीरता से लेकर कार्रवाई की होती तो शायद आज यह घटना नहीं होती।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00