69000 शिक्षक भर्ती: शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को बंधक बनाने के मामले में 100 पर मुकदमा

माई सिटी रिपोर्टर, अमर उजाला, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Fri, 22 Oct 2021 05:42 PM IST

सार

बेसिक शिक्षा निदेशालय के प्रशासनिक अधिकारी की तहरीर पर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। 61 प्रदर्शनकारी शांति भंग के आरोप में जेल भेजे गए।
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

महानगर के निशातगंज स्थित बेसिक शिक्षा निदेशालय में बृहस्पतिवार को घुसे प्रदर्शनकारियों ने कई घंटे तक हंगामा किया। जहां कर्मचारियों को बंधक बना लिया गया। जानकारी होने पर पहुंची पुलिस से भी कहासुनी व धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने इस मामले में 61 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं देर रात को 80 - 100 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
विज्ञापन


प्रभारी निरीक्षक महानगर प्रदीप सिंह के मुताबिक बेसिक शिक्षा निदेशालय के प्रशासनिक अधिकारी संजय कुमार शुक्ला ने 80 से 100 अज्ञात प्रदर्शनकारियों के खिलाफ महानगर थाने में बंधक बनाने, बलवा, सरकारी काम में बाधक बनने, धमकी देने व सेवेन सीएल एक्ट सहित कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।


पुलिस के मुताबिक मुकदमा दर्ज करने के बाद वीडियो व फोटो के आधार पर आरोपियों को चिह्नित किया जा रहा है। एसीपी महानगर सैय्यद अब्बास के मुताबिक हंगामे व प्रदर्शन में शामिल 61 प्रदर्शनकारियों को निदेशालय से गिरफ्तार किया गया जिनके खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई करते हुए उन्हें जेल भेज दिया गया। शुक्रवार को निदेशालय में भारी सुरक्षा के इंतजाम किये गये थे।

यह है मामला

69000 शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण घोटाले का आरोप लगाते हुए लंबे समय से प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी बृहस्पतिवार की दोपहर बेसिक शिक्षा निदेशालय में घुस गए और वहां के कर्मचारियों को बंधक बना लिया। ये लोग वहां पर अलग-अलग कमरों में जाकर बैठ गए व नारेबाजी करने लगे।

करीब सात घंटे तक प्रदर्शन कर रहे लोगों ने निदेशालय में हंगामा किया और वहां के लोगों को बंधक बनाए रखा। आठ बजे भारी पुलिस बल ने 61 प्रदर्शनकारियों को निदेशालय से गिरफ्तार करते हुए पूरे भवन को खाली कराया। इस दौरान एक युवक ने अपने हाथ पर ब्लेड से वारकर खुद को घायल भी कर लिया था।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00