लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   Lata Mangeshkar Birthday Yogi Adityanath To Inaugurate Lata Chowk Ayodhya Today PM Modi Virtually Join

लता की वीणा से दमका अयोध्या का वैभव : मुख्यमंत्री योगी व केंद्रीय पर्यटन मंत्री ने किया चौक का लोकार्पण

संवाद न्यूज एजेंसी, अयोध्या Published by: ishwar ashish Updated Wed, 28 Sep 2022 06:31 PM IST
सार

लता मंगेशकर चौक पर स्थापित चबूतरे पर करीब तांबे व स्टेनलेस स्टील की बनी 40 फीट लंबी व करीब 14 टन वीणा को स्थापित किया गया है। चौक के बीच में चारों ओर 92 कमल की आकृति के पत्थर फूल लगाए गए हैं, जो दिवंगत लता जी की उम्र को दर्शाते हैं।

अयोध्या का लता मंगेशकर चौराहा।
अयोध्या का लता मंगेशकर चौराहा। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

करीब 7.90 करोड़ की लागत से रामनगरी के नयाघाट पर स्थापित लता मंगेशकर चौक व इसके चबूतरे पर स्थापित 40 फीट लंबी व करीब 14 टन की वजनी वीणा से अयोध्या का वैभव दमकने लगा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने बुधवार को भारत रत्न सुर साम्राज्ञी स्व लता मंगेशकर की जयंती पर इस लता मंगेशकर चौक का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने वहां पहुंचे लता जी के भतीजे आदिनाथ हृदयनाथ मंगेशकर व उनकी पत्नी कृष्णा मंगेशकर को यहां स्थापित भव्य वीणा दिखाई और उसके साथ फोटो भी खिंचवाई। इस चौक से अब लता जी के द्वारा प्रभु श्रीराम की स्तुति में गाए गए भजन दिन रात गूंजेंगे। 



मुख्यमंत्री व केंद्रीय पर्यटन मंत्री बुधवार सुबह करीब 10:45 बजे लता मंगेशकर चौक पर पहुंचे। करीब 10:47 बजे दोनों ने बटन दबाकर उद्घाटन शिलापट का अनावरण किया। इसके बाद उन्होंने वीणा के चारों ओर तीन चक्कर लगाकर उसे निहारा। इस दौरान मुख्यमंत्री ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री को इस वीणा की खासियत भी बताई। मुख्यमंत्री ने वीणा के निर्माता पदमश्री राम वी सुतार को स्मृति चिह्न देकर सम्मनित किया।


इसके बाद करीब 10:51 बजे जब वह रामकथा पार्क की ओर जाने के लिए वाहन से रवाना होने ही वाले थे कि इतने में जिलाधिकारी नितीश कुमार के वाहन से लता जी के भतीजे आदिनाथ हृदयनाथ मंगेशकर व उनकी पत्नी कृष्णा मंगेशकर पहुंची। उन्हें देख मुख्यमंत्री वाहन से उतर पड़े और शिष्टाचार निभाते हुए उनका स्वागत किया। इसके बाद वह उन्हें लेकर दोबारा चौक के ऊपर पहुंचे और दोनों को शिलापट व कवि यतींद्र मिश्र द्वारा मराठी व हिंदी में लिखे शिला पट्टिका को भी दिखाया। इसके बाद वह करीब 10:57 बजे उन्हें लेकर रामकथा पार्क के लिए रवाना हो गए। 

यह है इस वीणा की खासियत

लता मंगेशकर चौक पर स्थापित चबूतरे पर करीब तांबे व स्टेनलेस स्टील की बनी 40 फीट लंबी व करीब 14 टन वीणा को स्थापित किया गया है। चौक के बीच में चारों ओर 92 कमल की आकृति के पत्थर फूल लगाए गए हैं, जो दिवंगत लता जी की उम्र को दर्शाते हैं। वीणा में मां सरस्वती का चित्र भी उकेरा गया है। इसका निर्माण प्रसिद्ध मूर्तिकार व पद्मश्री से सम्मानित राम वी सुतार ने किया है। इस चौक पर प्रसिद्ध साहित्यकार व दिवंगत लता मंगेशकर पर लता सुरगाथा के नाम से किताब लिखने वाले यतींद्र मिश्र द्वारा उनके सम्मान में हिंदी व मराठी में लिखे गए शिलापट भी लगाए गए हैं। 
 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00