लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   Students will have to leave kgmu after failing for four times.

KGMU: चार बार फेल होने वाले स्टूडेंट्स को छोड़ना होगा केजीएमयू

माई सिटी रिपोर्टर , अमर उजाला, लखनऊ Published by: लखनऊ ब्यूरो Updated Sat, 13 Aug 2022 01:21 PM IST
सार

लगातार फेल हो रहे स्टूडेंट्स को अब संस्थान से बाहर करने की तैयारी है। इस संबंध में केजीएमयू के कुलपति ने भी बयान जारी कर दिया है।

Students will have to leave kgmu after failing for four times.
- फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

केजीएमयू प्रशासन ने कई वर्षों से लगातार फेल हो रहे स्टूडेंट्स को अब बाहर करने की तैयारी कर ली है। राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग के नियम का हवाला देकर इसकी कार्यवाही शुरू की जा रही है। इसके तहत लगातार चार साल फेल होने वाले स्टूडेंट्स को अब संस्थान छोड़ना होेगा। यह नियम आगे भी लागू रहेगा।



चिकित्सा विश्वविद्यालय में इस समय 37 ऐसे विद्यार्थी हैं, जो कई सालों से फेल हो रहे हैं। कई तो 20 साल से एमबीबीएस की परीक्षा पास करने की कोशिश कर रहे हैं। इनके अनुरोध पर केजीएमयू ने समिति का गठन किया था। समिति ने इनको पास करने के लिए विशेष कक्षाएं चलाने को कहा था। इसका भी कोई असर देखने को नहीं मिला। इसके बाद अब केजीएमयू ने ऐसे विद्यार्थियों को निकालने की तैयारी कर ली है।


काफी समय से चल रहा है मुद्दा
केजीएमयू में काफी समय से फेल होने का मुद्दा चल रहा है। कई स्टूडेंट ऐसे भी हैं जिनके बच्चे ग्रेजुएशन कर चुके हैं, लेकिन वे अभी भी चिकित्सा स्नातक होने के लिए इम्तेहान दे रहे हैं। कई विद्यार्थी आरक्षित वर्ग का होने की वजह से जानबूझकर फेल करने का आरोप भी लगाते हैं।

एनएमसी के नियम के अनुसार लगातार चार साल फेल होने वाले स्टूडेंट्स को डिग्री नहीं देेने का प्रावधान है, इसलिए यह नियम केजीएमयू में भी लागू कर दिया गया है। जो स्टूडेंट चार साल से फेल हो रहे हैं, उनको संस्थान छोड़ना पड़ेगा।
- ले. जनरल डॉ. बिपिन पुरी, कुलपति केजीएमयू

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00