लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   The system took the life of the gang rape victim: if the police did not take action then committed suicide

सिस्टम ने ले ली सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता की जान : पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो पीड़िता ने कर ली आत्महत्या

संवाद न्यूज एजेंसी, अमर उजाला, अंबेडकरनगर Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Thu, 06 Oct 2022 11:14 PM IST
सार

एक 14 वर्षीय बच्ची का 16 सितंबर को अपहरण हो गया था। 18 को वह किसी तरह भागकर घर पहुंची। एक आरोपी का नाम लेने के बावजूद पुलिस ने अज्ञात पर गैंगरेप व पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज किया था। 

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अपहरण व सामूहिक दुष्कर्म की शिकार नाबालिग ने सिस्टम से आहत होकर आत्महत्या कर ली। एक पखवारे के बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से आहत नाबालिग ने पुलिसकर्मियों को इसकी चेतावनी दी थी। पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया तो उसने बुधवार को घर में दुपट्टे का फंदा बनाकर जान दे दी।



थाना क्षेत्र मालीपुर आत्महत्या करने से आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस को शव उठाने से रोकते हुए कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। उन्हें समझाने के लिए डीएम सैमुआल पॉल को आना पड़ा। उन्होंने थाना प्रभारी मालीपुर चंद्रभान यादव को लाइन हाजिर करने और विवेचक प्रमोद खरवार को निलंबित करने की घोषणा की, तब जाकर आक्रोश कम हुआ।


डीएम ने तीन सदस्यीय जांच टीम भी बनाई है। पिता ने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज करने के लिए डीएम को तहरीर दी है। गौरतलब है कि 14 वर्षीय बच्ची का 16 सितंबर को अपहरण हो गया था। 18 को वह किसी तरह भागकर घर पहुंची। एक आरोपी का नाम लेने के बावजूद पुलिस ने अज्ञात पर गैंगरेप व पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज किया था। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00