लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   Bhopal News: Forest department closed the gate of Kali Maa's temple with brick and cement, broke the wall afte

Bhopal News: वन विभाग ने काली मां के मंदिर के गेट को ईंट-सीमेंट से बंद किया, विरोध के बाद तोड़ी दीवार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल Published by: आनंद पवार Updated Tue, 09 Aug 2022 10:02 AM IST
सार

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में वन विभाग ने मां काली के मंदिर के गेट को ईंट और सीमेंट से बंद करा दिया। सोमवार को इसकी सूचना जब कांग्रेस और हिंदू संगठनों को लगी तो वह पहुंच गए। काफी देर हंगामा हुआ। बाद में मंदिर का गेट दीवार तोड़कर खोला गया।

भोपाल में काली मंदिर के गेट पर बनाई दीवार हटाई
भोपाल में काली मंदिर के गेट पर बनाई दीवार हटाई - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में वन विभाग ने मां काली के मंदिर के गेट को ईंट और सीमेंट से बंद करा दिया। सोमवार को इसकी सूचना जब कांग्रेस और हिंदू संगठनों को लगी तो वह पहुंच गए। काफी देर हंगामा हुआ। बाद में मंदिर का गेट दीवार तोड़कर खोला गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भोपाल के अर्जुन नगर में वन विभाग की जमीन पर मां काली का मंदिर बना है। इसका गेट वन विभाग ने ईंट और सीमेंट से बंद करा दिया। इसके बाद कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा, पार्षद योगेंद्र सिंह गुड्डू चौहान और संस्कृति बचाओ मंच के अध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने खूब हंगामा किया। इसके बाद पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया। कांग्रेस और हिंदू संगठनों के विरोध को देखते हुए वन विभाग ने ईंट और सीमेंट से बनाई दीवार को तोड़कर गेट खुलवा दिया। इसके बाद पीसी शर्मा और हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने मंदिर में पूजा-अर्चना की। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि मंदिर वन विभाग की जमीन पर बना है। मंदिर में प्रवेश के लिए दूसरी तरफ से भी गेट है। अब विरोध के बाद दीवार को तोड़ दिया गया है।

पूर्व मंत्री और विधायक पीसी शर्मा ने कहा कि मंदिर को बिना पुजारी को सूचना दिए बंद किया गया। मंदिर में अखंड ज्योत जल रही थी। इसके बावजूद गेट को ईंट और सीमेंट की दीवार से बंद कर दिया गया। इसके दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होना चाहिए। वहीं, पंडित चंद्रशेखर तिवारी ने कहा कि मंदिर 70 साल पहले बना है। अचानक अधिकारियों ने दीवार बनाकर गेट बंद कर दिया। इसके दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाना चाहिए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00