लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   MP News BJP core group meeting

MP News: BJP कोर ग्रुप की बैठक, 2023 को लेकर बड़ा प्लान, जयस, ओबीसी संगठनों को लेकर चर्चा, मीडिया की नो एंट्री

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल Published by: आनंद पवार Updated Sat, 01 Oct 2022 02:52 PM IST
सार

मध्य प्रदेश कोर ग्रुप की बैठक का अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव 2023 के लिए अहम माना जा रहा है। बैठक में प्रदेश बीजेपी संगठन के बड़े पदाधिकारी और चुनिंदा मंत्रियों को ही शामिल किया गया है।

बीजेपी की कोर ग्रुप की बैठक रातापानी अभ्यारण में हो रही
बीजेपी की कोर ग्रुप की बैठक रातापानी अभ्यारण में हो रही - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मध्यप्रदेश बीजेपी ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। शनिवार को मध्यप्रदेश बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक रातापानी अभ्यारण में शुरू हो गई। बैठक में पार्टी के बड़े नेता शामिल होने पहुंचे है। बैठक की जगह से मीडिया को 7 किमी पहले ही रोक दिया गया है।


मध्य प्रदेश कोर ग्रुप की बैठक का अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव 2023 के लिए अहम माना जा रहा है। बैठक में प्रदेश बीजेपी संगठन के बड़े पदाधिकारी और चुनिंदा मंत्रियों को ही शामिल किया गया है। पदाधिकारियों के वाहनों को भी बैठक की जगह से पहले ही रोक दिया। जिसके बाद सभी बस में सवार होकर विश्राम गृह पहुंचे। बैठक में सत्ता और संगठन के कामकाज पर चर्चा होगी। इसके अलावा नए चेहरे शामिल करने करने को लेकर भी बात होगी। प्रदेश में लंबे समय से निगम और मंडलों में पद खाली पड़े है। इनको भरने के लिए भी राय ली जाएगी। बैठक से मीडिया को दूर रखा गया है। मीडिया को विश्राम गृह से 7 किमी पहले ही रोक लिया गया। 


बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष, क्षेत्रीय सह संगठन मंत्री अजय जामवाल, राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री शिव प्रकाश, प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव शामिल है। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, फग्गन सिंह कुलस्ते, वीरेंद्र खटीक, प्रहलाद सिंह पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा के अलावा प्रदेश के पांच मंत्री भी बैठक में मौजूद है।

बैठक को लेकर बताया जा रहा है कि बीजेपी 2023 को लेकर बड़ी योजना पर काम कर रही है। प्रदेश में अपनी सक्रियता बढ़ाते जयस, ओबीसी संगठनों, भीम आर्मी, गोंडवाना गणतंत्री पार्टियों को रोकने चर्चा की जाएगी। इसके प्रभाव वाले जिलों को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। इसके लिए संगठन के बड़े नेताओं को जिम्मेदारी देने के साथ ही आरएसएस को भी जिम्मेदारी दी जाएगी। वहीं, एसटी एससी के लिए आरक्षित सीटों को भी जीतनें के लिए रणनीति तैयार की जाएगी।  
 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00