लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Nitin Gadkari: नितिन गडकरी ने वाहनों की सुरक्षा पर दिया जोर, कहा - एयरबैग की कीमत है सिर्फ 800 रुपये

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अमर शर्मा Updated Sat, 06 Aug 2022 12:12 PM IST
Nitin Gadkari
1 of 5
विज्ञापन
केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बार-बार इस बात का जिक्र किया है कि भारत सबसे ज्यादा सड़क दुर्घटनाओं वाले देशों की सूची में कैसे उच्च स्थान पर है। उन्होंने देश की सड़कों पर बेहतर बुनियादी ढांचे और सुरक्षित वाहनों की जरूरत पर भी बार-बार रोशनी डाली है। मंत्री ने हाल ही में यह दोहराया कि केंद्र सरकार यात्री वाहनों में एयरबैग की संख्या बढ़ाने के प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार कर रही है। 
Kia Carens Global NCAP Safety Rating
2 of 5
गडकरी ने पहले इस बात का जिक्र किया था कि कैसे कारों में 6 एयरबैग को वाहन के किसी भी मॉडल के सभी वैरिएंट्स में अनिवार्य बनाया जा सकता है। यह इस बात पर भी ध्यान दिए बिना होगा कि वह वाहन मास-मार्केट सेगमेंट में है या प्रीमियम या लग्जरी सेगमेंट में है। इस हफ्ते की शुरुआत में, गडकरी ने लोकसभा को बताया कि अगर कोई दुर्भाग्यपूर्ण घटना हो जाती है तो उस स्थिति में ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचाने का इरादा है। 
विज्ञापन
BMW iX Euro NCAP Crash Test
3 of 5
गडकरी ने बताया, "हमारा विभाग वाहन में पीछे बैठने वाले यात्रियों के लिए भी एयरबैग रखने की कोशिश कर रहा है, ताकि उनकी जान बचाई जा सके। भारत में औसतन लगभग पांच लाख सड़क दुर्घटनाएं होती हैं और 1.5 लाख मौतें इसके कारण होती हैं।" अभी तक, कारों में दो एयरबैग अनिवार्य हैं। पीछे बैठने वाले लोगों के लिए कोई एयरबैग नहीं होता है। एक एयरबैग की कीमत 800 रुपये है, हमारी कोशिश अधिकतम सुरक्षा सुनिश्चित करना है।" 
Maruti s-presso Global ncap
4 of 5
गडकरी ने पहले भी इस बात का जिक्र कर चुके हैं कि भारत सबसे अधिक सड़क दुर्घटनाओं वाले देशों की सूची में तीसरे स्थान पर है। वह वर्ल्ड रोड स्टैटिस्टिक्स (डब्ल्यूआरएस) 2018 के आंकड़ों का हवाला दे रहे थे। सख्त नियम और कानून रैश ड्राइविंग के खिलाफ रोकथाम में महत्वपूर्ण साबित हो सकते है। लेकिन ड्राइवर और पैदल चलने वालों दोनों के लिए बड़े पैमाने पर  जागरूकता को भी बढ़ाने की जरूरत है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Maruti Eeco By Global NCAP
5 of 5
लेकिन जहां तक देश में निर्मित वाहनों का संबंध है, एक आम सहमति है कि इन्हें भी सुरक्षित बनाने की जरूरत है। भारत अगले साल तक वाहनों के लिए अपनी सुरक्षा रेटिंग टेस्ट - भारत एनसीएपी लाने की योजना बना रहा है। और मानक के रूप में ज्यादा एयरबैग वाली सुरक्षित कारों के निर्माण से कीमतों में और बढ़ोतरी हो सकती है। आम सहमति यह है कि सुरक्षा को वह प्राथमिकता दी जानी चाहिए जिसकी वह हकदार है।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00