लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

हत्या कर पति का शव झुग्गी में दबाया, बदबू आने लगी तो अपनाया ये तरीका

ब्यूरो/अमर उजाला, रेवाड़ी(हरियाणा) Updated Thu, 29 Jun 2017 09:20 AM IST
Rewari Murder
1 of 6
विज्ञापन
एक ईंट भट्ठे पर रहने वाली महिला ने पति की हत्या कर शव झुग्गी में ही मिट्टी में दबा दिया। कई दिनों बाद जब बदबू आने लगी तो देखिए उसने क्या किया...
Rewari Murder
2 of 6
घटना हरियाणा के रेवाड़ी की है, जहां बावल थाना क्षेत्र के गांव रसियावास में एक ईंट भट्ठे पर रहने वाली महिला ने पति की हत्या कर शव झुग्गी में ही मिट्टी में दबा दिया। मामला दो दिन पुराना है। बुधवार को घर से बदबू आने और पत्नी के लिपाई -पुताई करने पर पड़ोस के लोगों को शक हुआ। 
विज्ञापन
Rewari Murder
3 of 6
बावल थाना पुलिस के अनुसार मूल रूप से छत्तीसगढ़ निवासी चंदन (42) पत्नी सुनीता और चार बच्चों के साथ गांव रसियावास में एक ईंट-भट्ठे पर मजदूरी करने के साथ ही वहीं रहते थे। बुधवार को पड़ोस के लोगों ने उसकी पत्नी सुनीता को घर की लिपाई - पुताई करते देखा तो उनको शक हुआ।
Rewari Murder
4 of 6
दो दिन से चंदन ईंट -भट्ठे से लापता था और एक जुलाई को पूरा परिवार छत्तीसगढ़ जाने की तैयारी में था। पड़ोस के लोग शंका होने पर सुनीता की झुग्गी में गए तो अंदर से बदबू आ रही थी। तलाशी ली तो झुग्गी में शव को मिट्टी में दबा रखा था। बदबू को दबाने के लिए ही सुनीता लिपाई-पुताई कर रही थी। लोगों ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी।
विज्ञापन
विज्ञापन
Rewari Murder
5 of 6
सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। महिला से पूछताछ की तो उसने बताया कि दो दिन पहले उसका पति चंदन ज्यादा शराब पीकर घर पहुंचा था। उसने धक्का दिया तो वह गिरकर मर गया। इसके बाद उसने पति की लाश दबा दी। पुलिस को सुनीता की कहानी गले नहीं उतर रही है। शाम तक पुलिस ने महिला से पूछताछ जारी रखी थी। वहीं शव का पोस्टमार्टम वीरवार को होगा। रिपोर्ट आने के बाद मौत की सही वजह सामने आएगी।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00