लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विश्व वृद्ध दिवस: उम्र! ठहरो जरा.. मैं अभी काम पर हूं

अविनाश श्रीवास्तव, गोरखपुर। Published by: vivek shukla Updated Sat, 01 Oct 2022 10:46 AM IST
विश्व वृद्ध दिवस
1 of 5
विज्ञापन
महानगर के दुर्गा प्रसाद, वरुण वैरागी, विजय कुमार दुबे और सरदार जसपाल सिंह। ये उन तमाम बुजुर्गों में से कुछ चंद नाम हैं जिन्होंने अपने जज्बे पर कभी उम्र को हावी नहीं होने दिया। उम्र भले ही साठ पार की हो, लेकिन जोश किसी युवा से कम नहीं। इन्होंने जिंदगी की दूसरी पारी में समाज सेवा को लक्ष्य बना लिया है। हर दिन समाज के लिए कुछ नया कर युवाओं के लिए मिसाल स्थापित कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: श्रद्धालुओं की आस्था का प्रतीक है बुढ़िया माई का दरबार, लगता है भव्य मेला
 
दुर्गा प्रसाद श्रीवास्तव
2 of 5
100 से अधिक असहाय कन्याओं का विवाह करा चुके हैं दुर्गा प्रसाद
रेलवे अधिकारी पद से सेवानिवृत्त महानगर के गोलघर कालीमंदिर मार्ग निवासी 94 वर्ष के दुर्गा प्रसाद श्रीवास्तव अबतक 100 से अधिक असहाय कन्याओं का विवाह करा चुके हैं। इसके साथ ही वह अनेक अवसरों पर भूखों को भोजन कराने के साथ ही बच्चों में पाठ्य सामग्री का वितरण करते रहते हैं। श्री चित्रगुप्त मंदिर के पूर्व अध्यक्ष होने के साथ ही थिओशिफकल क्लब के सदस्य, राष्ट्रीय सेवा परिषद के संरक्षक, मां अकलेश स्मृति सेवा परिषद सहित तमाम सामाजिक और शिक्षण संगठनों से जुड़े हुए हैं। जहां इन्हें इनके कार्यों को देखते हुए पूरा सम्मान मिलता है। श्री राम मंदिर के लिए उन्होंने अपने दो महीने की पेंशन की धनराशि मुख्यमंत्री को सौंपी थी।

 
विज्ञापन
वरुण वर्मा वैरागी
3 of 5
गो सेवा और धर्म के प्रचार-प्रसार में जुटे हैं वरुण वैरागी
पशुधन प्रसार अधिकारी पद से सेवानिवृत्त महानगर के नौसड़ निवासी 75 वर्षीय वरुण वर्मा वैरागी ने सेवानिवृत्त होने के बाद गो सेवा और धर्म के प्रचार-प्रचार के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने अबतक हजारों की संख्या में गायों का निशुल्क इलाज किया है। इसके साथ ही उन्होंने छह हजार से अधिक धार्मिक पुस्तकें निशुल्क वितरित की हैं।

कोरोना काल में जहां लोग घरों में थे, वहीं वरुण वैरागी गो सेवा में जुटे थे, इस दौरान उन्होंने एक हजार से अधिक गायों को चारा उपलब्ध कराया। वह पशुपक्षी सेवा आश्रम के नाम से एक संस्था भी चलाते हैं जिसके माध्यम से वह गो सेवा करते हैं। तमाम संस्थाओं ने उन्हें सम्मानित भी किया है।

 
विजय कुमार दुबे।
4 of 5
महापुरुषों की जयंती पर सफाई अभियान चलाते हैं विजय कुमार दुबे
शाहपुर की आवास विकास कॉलोनी निवासी 72 वर्षीय अधिवक्ता विजय कुमार दुबे महापुरुषों की जयंती पर विशेष सफाई अभियान चलाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। साथ ही लोगों को स्वच्छता अपनाने की प्रेरणा भी देते हैं। इस अभियान में उन्हें लोगों का भरपूर समर्थन भी मिलता है। इसके साथ ही वह जन सेवा समिति के अध्यक्ष और शाहपुर स्थित प्राचीन काली मंदिर के महामंत्री भी हैं। इन पदों पर रहते हुए वह समाज सेवा और धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए अनेक कार्यक्रम आयोजित करते रहते हैं। इन सेवा कार्यों में उन्हें उनकी पत्नी नीलम दुबे के साथ ही परिवार के लोगों का भरपूर समर्थन मिलता है।

 
विज्ञापन
विज्ञापन
सरदार जसपाल सिंह।
5 of 5
80 बार रक्तदान कर चुके हैं जसपाल सिंह
महानगर के तारामंडल क्षेत्र में रहने वाले गुरुद्वारा गुरुसिंह सभा जटाशंकर के अध्यक्ष 70 वर्षीय सरदार जसपाल सिंह अबतक 80 बार रक्तदान कर चुके हैं। इसके साथ ही वह कई तरह से लोगों मदद करते रहते हैं। जसपाल सिंह रक्तदान को सबसे बड़ी समाज सेवा मानते हैं, इस उद्देश्य से उन्होंने जगनैन सिंह नीटू के साथ मिलकर नवंबर 2015 से गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा जटाशंकर में श्री गुरु नानक देव निशुल्क रक्तदान सेवा सोसाइटी की स्थापना की। ये संस्था श्री गुरु गोरक्षनाथ ब्लड बैंक के सहयोग से प्रत्येक माह में एक रक्तदान शिविर आयोजित करती है। इस शिविर में हजारों की संख्या में लोग रक्तदान कर चुके हैं।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00