लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

9 Days Colours Of Navratri 2022: मां दुर्गा के नौ स्वरूपों के प्रिय हैं ये नौ रंग, जानें सबका महत्व

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: शिवानी अवस्थी Updated Mon, 26 Sep 2022 06:28 PM IST
नवदुर्गा के प्रिय रंग
1 of 10
विज्ञापन
9 Days Colours Of Navratri 2022: इस साल शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 26 सितंबर 2022 से हो रही है। नवरात्रि के पावन पर्व में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना करके माता को घर के मंदिर में स्थापित किया जाता है। माना जाता है कि यह नौ दिन देवी मां भक्तों के घर पर वास करती हैं। इस दौरान लोग नवरात्रि का उपवास करते हैं और देवी के नौ रूपों की आराधना करते हैं। नवरात्रि में भक्त माता के 9 स्वरूपों का श्रृंगार करते हैं। माता को प्रसन्न करने के लिए देवियों के प्रिय नौ रंगों को खुद भी धारण करते हैं। नवरात्रि में नवदुर्गा की पूजा में 9 अलग अलग रंगों का विशेष महत्व है। ऐसे में जानिए कि नवरात्रि के नौ देवियों के प्रिय 9 रंग कौन से हैं और नवरात्रि के नौ रंगों का क्या महत्व है।
प्रथम स्वरूप मां शैलपुत्री
2 of 10
प्रथम नवरात्रि, माता शैलपुत्री का प्रिय रंग

प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि की शुरुआत होती है। नवरात्रि के पहले दिन माता शैलपुत्री की पूजा की जाती है। वैसे तो मां दुर्गा को लाल रंग प्रिय है लेकिन देवी के शैलपुत्री की पूजा में सफेद रंग को अति शुभ माना जाता है। मां शैलपुत्री को सफेद रंग पसंद है। उनका स्वरूप भी सफेद रंग की साड़ी पहने नजर आता है। सफेद रंग का शांति और शुद्धता का प्रतीक माना जाता है। यानी नवरात्रि के पहले दिन से शुद्ध और शांत मन से माता की आराधना शुरू की जाती है।

Sardiya Navratri: दिल्ली की इन जगहों पर मिलता है फलाहारी खाना, नवरात्रि व्रत में कर सकते हैं सेवन    
 
विज्ञापन
दूसरा स्वरूप मां ब्रह्मचारिणी
3 of 10
द्वितीय नवरात्रि, माता ब्रह्मचारिणी का प्रिय रंग

नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। माता ब्रह्मचारिणी की पूजा में नारंगी रंग का उपयोग करना शुभ माना जाता है। नारंगी रंग साकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। 
तीसरा स्वरूप मां चंद्रघंटा
4 of 10
तृतीय नवरात्रि, माता चंद्रघंटा का प्रिय रंग

शारदीय नवरात्रि के तीसरे दिन माता चंद्रघंटा की आराधना की जाती है। माना जाता है कि माता चंद्रघंटा की पूजा के समय सफेद वस्त्र धारण करने चाहिए। सफेद रंग शांति और प्रेम का प्रतीक हैं। 

Navratri 2022: जानें देवी मां के 52 शक्तिपीठों के नाम और स्थान, दर्शन के लिए इन शहरों की ओर करें रुख    
विज्ञापन
विज्ञापन
चौथा स्वरूप मां कूष्मांडा
5 of 10
चतुर्थी नवरात्रि, माता कुष्मांडा का प्रिय रंग

नवरात्रि के चौथे दिन देवी के माता कूष्मांडा स्वरूप की पूजा की जाती है। इस बार गुरुवार को चतुर्थ नवरात्र है। ऐसे में माता कूष्मांडा की आराधना में लाल रंग का उपयोग शुभ माना गया है। लाल रंग प्रेम, पराक्रम, शक्ति का प्रतीक है। नवरात्रि के चौथे दिन लाल रंग के वस्त्र धारण करें।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00