ट्रंप के उकसाने पर ही कैपिटल हिल की ओर चल पड़े थे प्रदर्शनकारी, जानिए आगे क्या हुआ

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन Published by: गौरव पाण्डेय Updated Thu, 07 Jan 2021 06:10 PM IST
अमेरिकी कांग्रेस
1 of 17
विज्ञापन
दुनिया के सबसे ताकतवर देशों में शुमार संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए बुधवार का दिन काफी हड़कंप भरा रहा। पिछले साल तीन नवंबर को हुए चुनाव में जो बाइडन को मिली जीत की पुष्टि के लिए संसद का सत्र चल रहा था। तभी, निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों की भीड़ ने राजधानी वाशिंगटन में उत्पात मचाना शुरू कर दिया। स्थिति से निपटने के लिए कई घंटों का लॉकडाउन लगाना पड़ा। इस घटनाक्रम में चार लोगों की मौत भी हो गई। अमेरिका की राजधानी के इतिहास के इस अफरा-तफरी भरे दिन के बारे में जानिए कैसे यह घटना शुरू हुई और कहां तक पहुंची...

दोपहर के 1.10 बजे: ट्रंप ने समर्थकों को भड़काया

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)
2 of 17
जब कांग्रेस चयनित राष्ट्रपति जो बाइड की इलेक्टोरल कॉलेज जीत की पुष्टि करने की प्रक्रिया में थी, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने समर्थकों को अमेरिकी राजधानी की कैपिटल हिल में प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया। हालांकि, यह वादा करने के बावजूद कि वह इन प्रदर्शनों में अपने समर्थकों के साथ शामिल होंगे, ट्रंप अपनी एसयूवी में सवार होकर व्हाइट हाउस चले गए और किस तरह ये प्रदर्शन हिंसात्मक हो गए इसका नजारा उन्होंने टीवी पर देखा। 

एलिप्स में अपनी रैली में ट्रंप ने कहा था, 'हम राजधानी तक चल कर जाएंगे। और हम अपने बहादुर सीनेटरों और कांग्रेस के सदस्यों का उत्साह बढ़ाएंगे। और शायद उनमें से कुछ के लिए हम तालियां नहीं बजा रहे होंगे, क्योंकि आप कमजोर होकर कभी अपना देश वापस नहीं पा पाएंगे, आपको ताकत दिखानी होगी और आपको मजबूत होना होगा।' जब वह अपना भाषण समाप्त कर रहे थे तो उन्होंने दावा किया कि वह प्रदर्शनकारियों के साथ शामिल होंगे, जो राजधानी की ओर कूच कर रहे थे। उन्होंने कहा था, 'हम पेन्सिल्वेनिया अवेन्यू तक जाएंगे।'
विज्ञापन

दोपहर 1.15 बजे: प्रदर्शनकारियों की पुलिस से भिड़ंत 

प्रदर्शन करते ट्रंप समर्थक
3 of 17
एक बजने के कुछ देर के अंदर ही सैकड़ों ट्रंप समर्थक राजधानी के चारों ओर लगाए गए बैरियर्स को तोड़ते हुए अंदर घुसने लगे। यहां उनकी पुलिस अधिकारियों के साथ हाथापाई भी हुई। कुछ प्रदर्शनकारी पुलिस अधिकारियों को 'गद्दार' कह रहे थे। 

दोपहर 1.30 बजे: संदिग्ध पैकेज का अलर्ट

प्रदर्शनकारियों से निपटती पुलिस
4 of 17
सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार यूएस कैपिटल पुलिस ने अपने कर्मचारियों को हाउस कैनन बिल्डिंग और जेम्स मैडिसन मेमोरियल बिल्डिंग को खाली कराने का आदेश दिया। कैपिटल पुलिस ने अपने स्टाफ को एक संदिग्ध पैकेज के बारे में अलर्ट भेजा। बाद में लॉ एन्फोर्समेंट ने बताया कि डीएनसी और आरएनसी के मुख्यालय में पाइप बम पाए गए थे। रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने इन सभी बमों को सुरक्षित तरीके से नष्ट कर दिया गया। दो बजे के कुछ देर बाद राजधानी में लॉकडाउन लगा दिया गया। 
विज्ञापन
विज्ञापन

दोपहर 2.30 बजे: ट्रंप समर्थकों ने शुरू किया हंगामा

प्रदर्शन करते ट्रंप समर्थक
5 of 17
ढाई बजने से कुछ देर पहले ही कैपिटल पुलिस ने लॉ एन्फोर्समेंट से अतिरिक्त सहायता मांगी। प्रदर्शनकारी कैपिटल के बाहर दीवारों पर चढ़ गए और पुलिस से भिड़ने लगे। भीड़ ने पुलिस के साथ हाथापाई करने के साथ इमारत में घुसने की कोशिश की। कुछ ने इमारत में घुसने के लिए खिड़कियां भी तोड़ दीं। कैपिटल में प्रवेश करने के बाद प्रदर्शनकारियों ने कांग्रेस के हॉल में घूमना शुरू कर दिया। इनमें से कई ने लाल 'मागा' हैट पहन रखी थीं और स्टेचुरी हॉल में तस्वीरें ले रहे थे।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00