लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Jalandhar ›   In the viral audio, the team of Deputy District Education Officer said abusive words

वायरल ऑडियो में उप जिला शिक्षा अधिकारी की टीम को कहे अपशब्द

Punjab Bureau पंजाब ब्‍यूरो
Updated Fri, 09 Sep 2022 10:27 PM IST
In the viral audio, the team of Deputy District Education Officer said abusive words
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पठानकोट। एक मीटिंग के दौरान उप जिला शिक्षा अधिकारी राजेश्वर सलारिया और उनकी टीम के सदस्यों को कथित तौर पर अपशब्द और ‘डिफाल्टर’ कहने एक ऑडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि पठानकोट के जिला शिक्षा अधिकारी जसवंत सिंह इस ऑडियो क्लिप में बोल रहे हैं। यह मामला सामने आने के बाद बाद डिप्टी डीईओ और डीईओ में कागजी जंग तेज हो गई है। मामला शिक्षा मंत्री और शिक्षा सचिव तक पहुंच चुका है। वहीं उप जिला शिक्षा अधिकारी ने इस मामले की लिखित शिकायत एसएसपी और डीसी से भी कर दी है। जिसकी जांच शुरू हो गई है। ऑडियो 30 जुलाई का बताया जा रहा रहा है। जानकारी के अनुसार 31 जुलाई को बीएड की प्रवेश परीक्षा के लिए जिला शिक्षा अधिकारी पठानकोट जसवंत सिंह ने एवलन सीनियर सेकेंडरी स्कूल पठानकोट में ड्यूटी निभाने वाले समस्त निगरान अधिकारियों को हिदायतें देने के लिए बैठक बुलाई थी। आरोप है कि जिला शिक्षा अधिकारी किसी बात पर विषय से भटक गए और उन्होंने संबोधन के दौरान कुछ कर्मचारियों को डिप्टी डीईओ को अपशब्द और डिफाल्टर कह डाला। इसमें यह भी बोलते सुना जा रहा है कि डिप्टी डीईओ के दिन थोड़े हैं।

मानसिक तौर पर प्रताड़ित कर रहे जिला शिक्षा अधिकारी
डिप्टी डीईओ राजेश्वर सलारिया ने कहा कि उन्हें डीईओ जसवंत सिंह लंबे समय से प्रताड़ित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस जगह वह बैठते हैं, वहां लगाई कुर्सी को जिला शिक्षा अधिकारी ने हटवा दिया है। यही नहीं, पिछले दिनों जब वह बाहर थे तो उनके कार्यालय के बाहर लगी उनकी नेम प्लेट को तोड़ दिया गया। वहीं कुछ गोपनीय दस्तावेजों को ग्रुप में वायरल किया गया। उन्होंने कहा कि उनके जुलाई 2022 के टीए बिल का भी इसी रंजिश के तहत भुगतान नहीं किया जा रहा। उन्होंने कहा की डीईओ की इस हरकत के कारण समस्त स्टाफ तनाव में है और इस बारे में शिक्षा मंत्री, शिक्षा सचिव, डीसी पठानकोट और एसएसपी पठानकोट को शिकायत दी गई है। वहीं जिला शिक्षा अधिकारी जसवंत सिंह को बार-बार फोन करने की कोशिश की गई। लेकिन उन्होंने अपना पक्ष देने के लिए फोन रिसीव नहीं किया।

अनुशासन कायम करने पर मेरे खिलाफ चल रही साजिशें: डीईओ
जिला शिक्षा अधिकारी जसवंत सिंह सलारिया ने कहा कि वह विभाग में अनुशासन कायम करना चाहते हैं। इसके लिए कई बार सख्ती भी बरतनी पड़ती है। लेकिन, कुछ लोगों को यह पसंद नहीं। जिसके चलते उनके खिलाफ साजिशें रची जा रही हैं। उनके ऊपर लगाए जा रहे सभी आरोप बेबुनियाद और निराधार हैं।
दोनों अधिकारी गैर-जिम्मेदार : डीसी
डीसी पठानकोट हरबीर सिंह ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद जांच करवाई जा रही है। दोनों को बुलाया गया था। लेकिन, जांच अधिकारी के सामने दोनों गैर जिम्मेदारों की तरह झगड़ने लगे। जांच अधिकारी ने यहां तक बताया है कि इस तरह का व्यवहार करने वाले अधिकारी किस तरह बच्चों को पढ़ाते होंगे। मामले की जांच की जा रही है। दोनों गलत हैं। अभी यह कहना सही नहीं होगा कि किसकी गलती है। जांच पूरी होने पर कुछ कहा जा सकता है।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00