लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Rajasthan ›   Khatu Shyam Mandir Stampede: Three Died in Stampede In Khatu Shyamji Fair Of Sikar

Khatu Shyam Temple Stampede: खाटू श्याम मंदिर में भगदड़ से तीन की मौत, सीएम की पांच लाख मुआवजा देने की घोषणा

न्यूूज डेस्क, अमर उजाला, सीकर Published by: रोमा रागिनी Updated Mon, 08 Aug 2022 02:56 PM IST
सार

Stampede in Khatu Shyam Mandir: सीकर के खाटू श्याम मेले में सोमवार को बड़ा हादसा हो गया। मंदिर के कपाट बंद होने के दौरान भीड़ बेकाबू हो गई। जिससे तीन महिला की मौत हो गई। वहीं कई लोग घायल हो गए।

खाटूश्याम में भगदड़
खाटूश्याम में भगदड़ - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सीकर के खाटू श्याम के मंदिर में ग्यारस को लगने वाले मासिक मेले में भगदड़ मच गई। जिसमें तीन महिला श्रद्धालु की मौत हो गई। वहीं भगदड़ में 12 से अधिक लोग घायल हो गए। जिसमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं।

 

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार खाटू श्याम में सुबह चार बजे भगदड़ मची। मंदिर के पट बंद किया गया। इसी दौरान भीड़ बेकाबू हो गई और लोगों ने धक्का-मुक्की करना शुरू कर दिया। इस दौरान कई महिला और पुरुष श्रद्धालु नीचे गिर गए। जो उठ नहीं पाए। मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों और मंदिर कमेटी के गार्ड ने आनन-फानन में व्यवस्था संभाली। पुलिस कर्मियों ने घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया।





एक मृतक हरियाणा, दूसरी यूपी की रहने वाली थी 
वहीं भगदड़ में तीन महिलाओं की मौत हो गई। इस हादसे में घायल दो लोगों को जयपुर रेफर किया गया है। वहीं एक का खाटू श्याम सीएचसी में इलाज चल रहा है। मृतक महिलाओं में एक हरियाणा के हिसार की थी। हादसे में मारी गई कृपा देवी जयपुर के मानसरोवर इलाके की रहने वाली थीं। वहीं माया देवी उत्तर प्रदेश के हाथरस से थीं। तीनों शवों को खाटूश्यामजी हॉस्पिटल की मॉर्चुरी में रखवाया गया है, जहां उनका पोस्टमार्टम होगा। फिलहाल, खाटू श्याम थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है। 
 



बता दें कि खाटूश्यामजी में पुत्रदा एकादशी पर मासिक मेला लगता है। जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़ते हैं। ऐसे में रविवार देर रात को दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु जुटने लगे। इसी दौरान आरती के लिए जब मंदिर के पद बंद किए गए तो पट के पास दबाव बढ़ गया और धक्का-मुक्की शुरू हो गई। भगदड़ मचने के कारण तीन महिला श्रद्धालु की जान चली गई।

पीएम मोदी ने कहा-खाटूश्यामजी में लोगों की मृत्यु से हूं दुखी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खाटूश्यामजी हादसे को लेकर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि खाटूश्यामजी मंदिर परिसर में मची भगदड़ में लोगों की मौत से दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं प्रार्थना करता हूं कि जो लोग घायल हुए हैं, वे जल्द से जल्द ठीक हो।



 

मंदिर प्रशासन पर उठ रहे सवाल
हादसे को लेकर मंदिर प्रशासन को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने भगदड़ के लिए मंदिर कमेटी और प्रशासन को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि जब लाखों लोग आते हैं तो क्यों तैयारियों के पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए। सांसद ने कहा है कि मंदिर में डिप्टी लेवल के अधिकारी की ड्यूटी होनी चाहिए।

सांसद और विधायकों का मानना है कि मंदिर कमेटी के लोगों का सिर्फ वीआईपी कल्चर में ही यकीन है। मंदिर कमेटी सिर्फ वीआईपी के साथ फोटो खिंचवाने के लिए ही बाहर आती है। इसलिए एक बार फिर मंदिर को सरकारी व्यवस्था में देने की बात कही जा रही है।

हम मिन्नतें करते रहे और लोग रौंदते रहे-घायल
मृतकों और घायलों के परिजनों ने बताया कि हम रोते रहे, मिन्नते करते रहें कि रुक जाओ लेकिन किसी ने एक न सुनी। लोग हमें रौंदते हुए आगे बढ़ रहे थे। हम चीखते रहें। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जैसे ही मंदिर खुला सबसे पहले दर्शन करने की होड़ मच गई। कुछ लोग रेलिंग फांदकर जाने की कोशिश कर रहे थे, इसीमें भगदड़ मच गई।

सीएम गहलोत, राजे सहित कई नेताओं ने जताया दुख
खाटू श्याम हादसे को लेकर सीएम गहलोत, वसुंधरा राजे सहित कई नेताओं ने दुख जताया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर लिखा कि सीकर में खाटू श्याम जी के मंदिर में भगदड़ होने से तीन दर्शनार्थी महिलाओं की मृत्यु बेहद दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी गहरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं, ईश्वर उन्हें यह आघात सहने की शक्ति प्रदान करें एवं दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करें।

राजे ने की दोषियों पर कार्रवाई की मांग
वसुंधरा राजे ने कहा कि खाटू श्यामजी मंदिर में भगदड़ मचने से तीन महिला श्रद्धालुओं की मृत्यु की घटना बहुत दुःखद है। इसकी जांच कर दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए। जिससे ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो। ईश्वर दिवंगतों की आत्मा को शांति और घायलों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।



अर्जन राम मेघवाल ने कहा कि राजस्थान के सीकर स्थित खाटू श्यामजी के मेलें में भगदड़ मचने से श्रद्धालुओं की मृत्यु और कई श्रद्धालुओं के घायल होने का हृदय विदारक समाचार मिला है। ईश्वर मृतकों की आत्मा को शांति और शोकाकुल परिवारों को संबल प्रदान करें। घायल श्रद्धालुओं को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं।



त्रिवेंद्र रावत ने शोक जताते हुए कहा कि खाटू श्यामजी मंदिर परिसर में मची भगदड़ में लोगों की मौत की खबर सुनकर मन अत्यंत दुःखी है। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की श्री कृष्ण भगवान से प्रार्थना करता हूं।

संभागीय आयुक्त को सौंपी गई जांच
खाटूश्याम मंदिर में हादसे की जांच संभागीय आयुक्त करेंगे। वहीं सीएम ने मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को 20-20 हजार रुपये सहायता राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष (CMRF) से देने के निर्देश दिए हैं।

एसएचओ सस्पेंड
खाटू श्याम हादसे में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। एकादशी में भारी भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस अमला तैनात नहीं किया गया था। जिसके बाद एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने खाटू एसएचओ रिया चौधरी को सस्पेंड कर दिया है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00