लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Sports ›   Olympic medalist weightlifter Mirabai Chanu won gold in 36th National Games, defeating Sanjita Chanu in final

36th National Games: ओलंपिक मेडलिस्ट वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने जीता स्वर्ण, संजीता को 4 किलो के अंतर से हराया

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, अहमदाबाद Published by: स्वप्निल शशांक Updated Fri, 30 Sep 2022 07:41 PM IST
सार

यह मीराबाई का दूसरा राष्ट्रीय खेल है। फाइनल में उन्होंने संजीता चानू को चार किलो  के अंतर से हराया। संजीता ने कुल 187 किलो का वजन उठाया। स्नैच राउंड में संजीता ने 82 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 105 किलो वजन उठाकर रजत पदक अपने नाम किया।

मीराबाई स्वर्ण पदक के साथ (दाएं) और संजीता रजत पदक के साथ (दाएं)।
मीराबाई स्वर्ण पदक के साथ (दाएं) और संजीता रजत पदक के साथ (दाएं)। - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

ओलंपिक रजत पदक विजेता वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने 36वें राष्ट्रीय खेल का भी शानदार आगाज किया है। उन्होंने शुक्रवार को वेटलिफ्टिंग के 49 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक अपने नाम किया। मीराबाई ने कुल 191 किलो का वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता। मीरा ने टोक्यो ओलंपिक में रजत जीतने के साथ-साथ इसी साल बर्मिंघम में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने नेशनल गेम्स में स्नैच राउंड में 84 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 107 किलो का वजन उठाया।


National Games: Mirabai Chanu Pips Sanjita For Gold In Womens 49kg Weightlifting

नेशनल गेम्स के दौरान मीराबाई चानू

यह मीराबाई का दूसरा राष्ट्रीय खेल है। फाइनल में उन्होंने संजीता चानू को चार किलो  के अंतर से हराया। संजीता ने कुल 187 किलो का वजन उठाया। स्नैच राउंड में संजीता ने 82 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 105 किलो वजन उठाकर रजत पदक अपने नाम किया। वहीं, ओडिशा की स्नेहा सोरेन ने कांस्य पदक अपने नाम किया। स्नेहा ने स्नैच राउंड में 73 किलो और क्लीन एंड जर्क राउंड में 96 किलो का वजन उठाया। 

मीराबाई ने खुलासा किया कि वह अपनी बाईं कलाई में चोट का इलाज करा रही हैं, इसी वजह से दोनों राउंड में अपने तीसरे प्रयास के लिए नहीं गई थीं। मैच के बाद मीरा ने कहा- मैंने हाल ही में एनआईएस, पटियाला में प्रशिक्षण के दौरान अपनी बाईं कलाई को घायल कर लिया था। इसके बाद मैंने सुनिश्चित किया कि मैं इसे और अधिक जोखिम में न डालूं। दिसंबर में मुझे विश्व चैंपियनशिप भी खेलना है।

मीराबाई ने कहा- राष्ट्रीय खेलों में मणिपुर का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए गर्व का क्षण है। जब मुझे उद्घाटन समारोह में दल का नेतृत्व करने के लिए कहा गया तो उत्साह दोगुना हो गया। उन्होंने कहा कि आम तौर पर उद्घाटन समारोह में भाग लेना एक चुनौती होती है क्योंकि अगले दिन ही मेरा इवेंट होता है, लेकिन इस बार मुझे लगा कि खुद को चुनौती देनी चाहिए। मीराबाई का लक्ष्य इस साल विश्व चैंपियनशिप और अगले साल एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतना है।

वहीं, रजत जीतने वाली संजीता ने कहा- यह मेरे लिए एक विशेष क्षण है, लेकिन मीराबाई को बधाई। वह अपने शानदार प्रयास के लिए सभी प्रशंसा की पात्र हैं। राष्ट्रीय खेलों में प्रतिस्पर्धा करना और अपने राज्य का प्रतिनिधित्व करना बहुत अच्छा लगता है। पिछली बार (केरल 2015 में), मैंने कम भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था, लेकिन सात वर्षों के बाद, प्रतियोगिता का स्तर निश्चित रूप से ऊपर जाता है।
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00