कोर्ट में अधिवक्ता की हत्या के विरोध में वकीलों की प्रदेशव्यापी हड़ताल आज

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज Published by: विनोद सिंह Updated Wed, 20 Oct 2021 12:59 AM IST

सार

  • हाईकोर्ट के वकील भी हड़ताल में होंगे शामिल
  • मालूम हो कि सोमवार को शाहजहांपुर के न्यायालय परिसर में अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिससे कोर्ट परिसर की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। उ. प्र. बार काउंसिल ने आपात बैठक कर घटना की निंदा की और वकीलों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई। घटना को लेकर प्रदेशव्यापी विरोध में न्यायिक कार्य से विरत रहने का प्रस्ताव पारित किया गया और 20 अक्तूबर को प्रदेश की अदालतों का कामकाज ठप रखने का बार संगठनों से अनुरोध किया गया।
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

शाहजहांपुर जिला अदालत में अधिवक्ता की हत्या के विरोध स्वरूप व अधिवक्ता सुरक्षा कानून की मांग को लेकर बार काउंसिल के आह्वान पर बुधवार को पूरे प्रदेश के अधिवक्ता संगठन हड़ताल करेंगे। इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता भी इस दिन न्यायिक कार्य से विरत रहेंगे। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन की एल्डर कमेटी ने इस आशय का प्रस्ताव पारित किया है। कमेटी ने मुख्य न्यायाधीश से अनुरोध किया है कि हड़ताल के कारण अधिवक्ताओं की कोर्ट में गैर मौजूदगी के कारण प्रतिकूल आदेश पारित न किया जाए।
विज्ञापन


मालूम हो कि सोमवार को शाहजहांपुर के न्यायालय परिसर में अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिससे कोर्ट परिसर की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। उ. प्र. बार काउंसिल ने आपात बैठक कर घटना की निंदा की और वकीलों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई। घटना को लेकर प्रदेशव्यापी विरोध में न्यायिक कार्य से विरत रहने का प्रस्ताव पारित किया गया और 20 अक्तूबर को प्रदेश की अदालतों का कामकाज ठप रखने का बार संगठनों से अनुरोध किया गया। एल्डर कमेटी ने भी प्रस्ताव पारित कर 20 अक्तूबर को न्यायिक कार्य के बहिष्कार का फैसला लिया है।

कचहरी में वकीलों की आम सभा आज

प्रयागराज। शाहजहांपुर के न्यायालय परिसर में हुई अधिवक्ता भूपेंद्र सिंह की हत्या के विरोध में जिला अधिवक्ता संघ द्वारा बुधवार को सुबह 11 बजे आम सभा बुलाई गई है। जिला अधिवक्ता संघ के मंत्री प्रमोद सिंह नीरज और विद्याभूषण द्विवेदी ने बताया कि अधिवक्ता की हत्या के विरोध में बुधवार को जिला न्यायालय के वकील जुलूस निकालकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपेंगे। इसके लिए अधिवक्ताओं की आमसभा संघ हॉल में सुबह 11 बजे होगी। अधिवक्ता संघ का कहना है कि ज्ञापन के माध्यम से सरकार से मांग की जाएगी कि प्रदेश में अधिवक्ता प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाए। हत्या के विरोध में बुधवार को अधिवक्ता न्यायिक कार्य नहीं करेंगे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00