बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

लाखों की इंटरलॉकिंग चोरी से बेच दीं, नगर निगम सदन की बैठक में गूंजेगा मुद्दा

Allahabad Bureau इलाहाबाद ब्यूरो
Updated Wed, 23 Dec 2020 12:51 AM IST
Interlocking of millions sold by theft, the issue will be heard in the meeting of the municipal corporation
Interlocking of millions sold by theft, the issue will be heard in the meeting of the municipal corporation
विज्ञापन
ख़बर सुनें
स्मार्ट सिटी के एबीडी एरिया में स्मार्ट सड़कों के निर्माण, चौड़ीकरण के दौरान निकलीं लाखों की इंटरलॉकिंग चोरी से बेचने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक पार्षद के आरोप पर बुधवार को नगर निगम सदन की बजट बैठक में यह मुद्दा जोरदारी से उठाने की तैयारी है।
विज्ञापन

स्मार्ट सिटी के अन्य कार्यों पर भी विस्तृत चर्चा होगी। वहीं, विज्ञापन मद में अब तक सिर्फ 20 लाख की वसूली अफसरों के लिए सिरदर्द बनेगी। पार्षद बुनियादी जरूरतों के साथ गृहकर और जलकर के मुद्दों को जोरदारी से उठाने की तैयारी में हैं।

इंटरलॉकिंग चोरी मामले का एक वीडियो इन दिनों पार्षदों और अफसरों के बीच वायरल है। वार्ड 25 के पार्षद अनिल कुशवाहा का आरोप है कि ट्रैक्टरों पर लाद कर फुटपाथ से निकली इंटरलॉकिंग चार सौ रुपये सैकड़ा की दर से अवैध प्लाटिंग करने वालों के हाथों बेची जा रही हैं।
इसका कहीं लेखा जोखा नहीं है। उन्होंने चोरी से बेची गई इंटरलॉकिंग की सप्लाई करने वाले ट्रैक्टर का पीछा किया और वीडियो भी बनाया है।
वहीं सदन की बैठक में स्मार्ट सिटी के कार्यों की समीक्षा करने की तैयारी है।
आरोप है कि करीब साल भर पहले बनाई गई सड़कों के निर्माण पर स्मार्ट सिटी कंपनी के अफसर लाखों नहीं करोड़ों खर्च कर रहे हैं। एबीडी एरिया में नए बने फुटपाथ भी उखाड़े जा रहे हैं। गृहकर और जलकर के मुद्दे पर विपक्षी दल के पार्षद मौजूदा दरों को भी कम करने की मांग कर हंगामा करने की तैयारी में हैं।
इंटरलॉकिंग चोरी के मामले से नगर आयुक्त को अवगत करा दिया गया है। एक इंजीनियर और स्टोर प्रभारी पर आरोप हैं। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। सदन की बजट बैठक में जनहित के मुद्दों पर चर्चा होगी। कोरोना काल में गृहस्वामियों को राहत मिले, इस बारे में शासन स्तर से संस्तुति लेकर सुसंगत दरें ही लागू की जाएंगी।- अभिलाषा गुप्ता नंदी, महापौर
पार्षद बोले, कम की जाएं कर की दरें
सर्वदलीय पार्षद संघर्ष समिति और जनहित संघर्ष समिति की बैठक में मंगलवार को गृहकर और जलकर की मौजूदा दरों को कम करने का प्रस्ताव पारित किया गया। विपक्षी दल के पार्षद एकजुट होकर इस मामले को सदन के पटल पर रखेंगे। महापौर से मांग की गई है कि मौजूदा दरों में सदन कमी कर सकता है। यही स्वीकार्य होता है। इसलिए गृहकर और जलकर की दरें दस फीसदी निर्धारित की जाएं। इससे कोरोना काल में आर्थिक तंगी का सामना कर रहे शहरियों को राहत मिलेगी। पार्षद आनंद घिल्डियाल के आवास पर हुई बैठक में पूर्व पार्षद शिवसेवक सिंह, कमलेश सिंह, पार्षद अशोक सिंह, रंजन कुमार, सुशील कुमार, चंद्र प्रकाश गंगा, अशोक कुमार, चंद्र प्रकाश गंगा आदि मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00