मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में 1477 का उपचार

Gorakhpur Bureau गोरखपुर ब्यूरो
Updated Sun, 19 Sep 2021 11:18 PM IST
cm arogya mela
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में 1477 का उपचार
विज्ञापन

जांच के साथ ही निशुल्क दवाइयां भी दी र्गइं, एसीएमओ ने टिनिच ब्लॉक के मेलों का निरीक्षण किया
संवाद न्यूज एजेंसी
बस्ती। नगरीय पीएचसी बरदहिया व नरहरिया सहित जिले के 38 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर रविवार को मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन हुआ। कोरोना संक्रमण के चलते इसे बंद इस मेले को पुन: शुरू किया गया है। मेले में 1477 लोग पहुंचे। यहां निशुल्क जांच के साथ ही उन्हें दवाइयां भी दी गईं।
गौर ब्लॉक के टिनिच में आयोजित मेले का निरीक्षण एसीएमओ डॉ. सीएल कन्नौजिया ने किया। उन्होंने कहा कि बीते कई महीनों कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण से मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित नहीं हो पा रहा था। खुशी की बात है कोविड प्रोटोकाल के साथ यह आयोजन हम दोबारा करने का प्रयास कर रहे हैं। कोरोना काल ने हमें यही सिखा दिया है कि स्वास्थ्य अब हमारी प्राथमिकता है। लोग कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए लोग मेले में आएं और स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लें।

सीएमओ डॉ. अनूप कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि शासन के निर्देश पर सभी पीएचसी में मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। मेला कराने का उद्देश्य स्पष्ट है कि एक ही छत के नीचे लोगों को अधिकाधिक स्वास्थ्य सुविधाएं, जांच, उपचार और दवाएं आदि उपलब्ध हों। हमारा प्रयास है कि इस मेले से अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों। उन्होंने बताया कि मेला परिसर में प्रवेश करने से पूर्व प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग की जा रही है। मेले में मॉस्क और सैनिटाइजर की भी व्यवस्था है।
भानपुर प्रतिनिधि के अनुसार, सीएचसी भानपुर की तीन पीएचसी पर आयोजित मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में 113 मरीजों की सेहत जांची गई। सीएचसी अधीक्षक डॉ.सचिन कुमार चौधरी ने पीएचसी परसाकुतुब पहुंचकर मेले का निरीक्षण किया। पीएचसी परसाकुतुब में डॉ.पीसी यादव, डॉ.पल्लवी चौधरी, करमहिया में डॉ.शिल्पी पटेल, डॉ.अमिष कुमार और पीएचसी सगरा में डॉ.सतोष गौड़ व डॉ.कलीम अहमद, डॉ.उमैमा यास्मीन ने मरीजों की जांच की।
टिनिच प्रतिनिधि के अनुसार पीएचसी आमा आमा परिसर में आयोजित मेले में 85 मरीजों का स्वास्थ्य जांच कर दवाइयां दी गईं। वाल्टरगंज प्रतिनिधि के अनुसार, मेले में 28 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण हुआ। सोनहा प्रतिनिधि के अनुसार, अमरौली शुमाली स्वास्थ्य केेंद्र में 50 मरीजों की जांच कर दवाएं वितरित की गईं। बनकटी प्रतिनिधि के अनुसार, मेले में बड़ी संख्या में लोगों ने स्वास्थ्य जांच कराकर डॉक्टरों से परामर्श लिया।
मेला में मिलीं ये सुविधाएं
मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में गोल्डन कार्ड बनवाने, गर्भावस्था एवं प्रसवकालीन परामर्श, पूर्ण टीकाकरण एवं परिवार नियोजन संबंधी साधनों एवं परामर्श की व्यवस्था रही। इसके साथ ही संस्थागत प्रसव संबंधी जागरूकता, जन्म पंजीकरण परामर्श, नवजात शिशु स्वास्थ्य सुरक्षा परामर्श एवं सेवाएं, बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया की रोकथाम के साथ ही टीबी, मलेरिया, डेंगू, फाइलेरिया, कुष्ठ आदि बीमारियों की जानकारी, जांच एवं उपचार की नि:शुल्क सेवाएं दी गई। पीएचसी पर जो जांचें नहीं हो पाईं उन मरीजों को जांच के लिए सीएचसी अथवा जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00