लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Bhadohi ›   massive Fire broke out in Durga Puja pandal in bhadohi people were shocked to see flames

भदोही में दर्दनाक हादसा: दुर्गा पूजा पंडाल में लगी भीषण आग, तीन बच्चों समेत पांच की मौत, 67 झुलसे, मचा कोहराम

अमर उजाला नेटवर्क, भदोही Published by: उत्पल कांत Updated Mon, 03 Oct 2022 09:24 AM IST
सार

यूपी के भदोही में रविवार देर शाम एक दुर्गा पूजा पंडाल में आग लग गई। घटना में 64 से ज्यादा लोग झुलस गए। आग इतनी भीषण थी कि ऊंची  लपटें देख हर कोई सहम उठा। मासूम समेत पांच लोगों की मौत हो चुकी है। 

भदोही: पंडाल में लगी आग से जला सामान
भदोही: पंडाल में लगी आग से जला सामान - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

यूपी के भदोही के औराई कोतवाली से कुछ दूर नरथुआं स्थित एकता दुर्गा पूजा पंडाल में रविवार रात करीब 8 बजे आरती के समय भीषण आग लग गई। हादसे में 67 लोग झुलस गए। अब तक तीन बच्चे समेत पांच लोगों की मौत हो चुकी है। भदोही डीएम गौरांग राठी ने इसकी पुष्टि की है। झुलसने वालों में महिलाएं और बच्चे ज्यादा हैं। वाराणसी के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करीब 20 लोगों की हालत अभी भी चिंताजनक बनी हुई है।  मृतकों में अंकुश सोनी (10), जया देवी (45), आरती चौबे (48), हर्ष वर्धन (8) और नवीन (10 ) शामिल है। मृतक अंकुश का अंतिम संस्कार सोमवार सुबह उनके परिजनों द्वारा कर दिया गया है।  एसआईटी टीम की जांच में प्रथम दृष्टया आग लगने का कारण हाइलोजन लाइट के गर्म होकर आग पकड़ने से पाया गया है।



रविवार शाम हादसे की सूचना मिलते ही डीएम-एसपी व अन्य अधिकारी और दमकल टीम मौके पर पहुंच गई। डीएम गौरांग राठी और एसपी डॉ. अनिल कुमार मौके पर बचाव कार्य की निगरानी करते और जरूरी निर्देश देते रहे। बाद में एडीजी जोन रामकुमार और विंध्याचल कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र भी पहुंचे। डीएम के मुताबिक, आशंका है कि शार्ट सर्किट से आग लगी है। दमकल टीम ने एक घंटे में आग पर काबू पाया।


पंडाल में चल रहा था डिजिटल शो
औराई-भदोही मार्ग पर नरथुआं स्थित एकता क्लब का पंडाल काफी आकर्षक होने से यहां नवरात्र में भीड़ जुटती है। रविवार रात करीब 8 बजे 150 से अधिक लोग पंडाल में मौजूद थे। लोग आरती में शामिल होकर जयकारा लगा रहे थे। पंडाल में डिजिटल शो भी चल रहा था। इसी दौरान अचानक आग लग गई। जिसे देख वहां भगदड़ मच गई। देखते ही देखते पूरा पंडाल धू-धूकर जलने लगा। मौके पर चीखपुकार मच गई। जिसे जिधर से रास्ता मिला भागने लगा।

मुख्यमंत्री ने ली हादसे की जानकारी

झुलसे लोगों को एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया।
झुलसे लोगों को एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया। - फोटो : अमर उजाला
घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए 52 एंबुलेंस लगाई गई। सोमवार सुबह जिला प्रशासन ने झुलसने वालों की संख्या 67 बताई है। मृतक अंकुश सोनी गांव जेठूपुर औराई का रहने वाला है। अंकुश की मौत भदोही में जबकि चार की मौत अस्पताल में उपचार के दौरान हुई। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी से हादसे के बारे में जानकारी ली और झुलसे लोगों के बेहतर इलाज का प्रबंध करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने हादसे के तुरंत बाद राहत कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिए। एडीजी जोन रामकुमार ने कहा कि हादसे की जांच के लिए पुलिस-प्रशासन और फोरेंसिक एक्सपर्ट की संयुक्त टीम गठित की जा रही है।

घटना के कारण और लापरवाही के आरोपों की जांच की जाएगी। दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।  घटना की जांच के लिए एडीजी राम कुमार ने चार सदस्य एसआईटी गठित कर दी है। इसमें अपर जिलाधिकारी(वि/रा), अपर पुलिस अधीक्षक, एक्सईएन हाईडिल और फायर सेफ्टी ऑफिसर शामिल हैं। 

बच्चों और महिलाओं के जले चेहरे बता रहे थे हादसे की भयावहता

अपनो का हाल जानने के लिए अस्पताल में जुटी भीड़
अपनो का हाल जानने के लिए अस्पताल में जुटी भीड़ - फोटो : अमर उजाला
औराई के दुर्गा पूजा पंडाल की घटना ने हर किसी को झकझोर दिया। शाम करीब आठ बजे जैसे आग लगी तो किसी को कुछ समझ में नहीं आया। करीब 20 मिनट बाद दमकल के वाहन मौके पर पहुंचे लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका। सूचना पर भदोही और ज्ञानुपर से भी दमकल की गाड़ियां पहुंची। इधर झुलसे बच्चों और महिलाओं को अस्पताल ले जाने का सिलसिला शुरू हुआ। औराई के एंबुलेंस कम पड़ने पर जिला और मंडल से एंबुलेंस मंगाई गई।

उसके बाद झुलसे लोगों को सीएचसी औराई, सूर्या ट्रामा सेंटर सहित अन्य निजी अस्पतालों में पहुंचाया गया। आग से झुलसे बच्चों की चीख सुनकर वहां मौजूद लोगों की आंखें नम हो गईं। घटना के बाद डीएम गौरांग राठी, एसपी डॉ. अनिल कुमार सहित पुरा पुलिस और प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया। शाम आठ बजे से रात 11 बजे तक अस्पतालों में अफरातफरी की स्थिति बनी रही।

वाराणसी के अस्पतालों में आने के लिए बनाया गया ग्रीन कॉरिडोर

बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के बाहर तैनात फोर्स
बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के बाहर तैनात फोर्स - फोटो : अमर उजाला
भदोही हादसे में झुलसे लोगों को इलाज के लिए बीएचयू ट्रॉमा सेंटर, सर सुंदरलाल चिकित्सालय और कबीरचौरा स्थित मंडलीय अस्पताल में इलाज के लिए विशेष इमरजेंसी वार्ड और डॉक्टरों की टीम तैनात की गई। झुलसे लोगों को अस्पताल जल्द पहुंचाया जाए इसके लिए पुलिस कमिश्नरेट के द्वारा लंका से लगायत कबीरचौरा तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया। वहीं घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश और जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा अधिकारियों के साथ खुद बीएचयू ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। 

भीषण आग ने पूरे जिले को झकझोर कर रख दिया

भदोही में दुर्गा पूजा पंडाल में लगी भीषण आग
भदोही में दुर्गा पूजा पंडाल में लगी भीषण आग - फोटो : अमर उजाला
भदोही- औराई मार्ग पर स्थित दुर्गा पंडाल में भीषण आग ने पूरे जिले को झकझोर कर रख दिया। घटना में आयोजन समिति की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। पंडाल स्थल पर चलने वाले शो में प्रोजेक्टर के माध्यम से धार्मिक कार्यक्रम दिखाए जा रहे थे। गुफानुमा बने स्थल में आने-जाने का सिर्फ एक ही रास्ता है। आग लगने के बाद अंदर भगदड़ मच गई। इससे कई महिलाएं और बच्चे गिर गए। आग तेजी से फैली और उसके चपेट में सभी आ गए।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00