Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Bijnor ›   Najibabad assembly seat: Chaudhary Charan Singh suddenly became silent while speaking after seeing a person smoking in the crowd

नजीबाबाद विधानसभा सीट: ...जब भीड़ में बीड़ी पीते हुए शख्स को देख बोलते हुए अचानक चुप हो गए थे चौधरी चरण सिंह

न्यूज डेस्क अमर उजाला, बिजनौर Published by: Dimple Sirohi Updated Fri, 14 Jan 2022 10:53 AM IST

सार

चौधरी चरण सिंह को बिजनौर के नजीबाबाद में एक सभा को संबोधन के दौरान भीड़ में बीड़ी पीते हुए और बात कर रहे व्यक्ति को देखकर गुस्सा आ गया था। उन्होंने अपने भाषण को बीच में ही रोक दिया था। चौधरी साहब साल 1968 में कांग्रेस के खिलाफ प्रचार करने नजीबाबाद आए थे।
पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का फाइल फोटो
पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का फाइल फोटो - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आज की चुनावी जनसभाओं में भीड़ खूब शोर-शराबा करती है, मंच के नेता भी इसे अनदेखा कर देते हैं लेकिन, बिजनौर के नजीबाबाद में चौधरी साहब की सभा का एक किस्सा इससे जुदा है। दरअसल, साल 1968 में चौधरी चरण सिंह नजीबाबाद आए थे। भाषण के वक्त गुस्सा आया तो अचानक चुप हो गए। बीड़ी पीते हुए बातचीत कर रहे एक व्यक्ति के खदेड़ दिए जाने के बाद ही भाषण फिर शुरू किया था। 

विज्ञापन


साल 1968 के मई जून के महीने में चौधरी चरण सिंह नजीबाबाद आए थे। नजीबाबाद में एमडीकेवी के पास उनकी जनसभा हुई। मंच पर साहनपुर स्टेट के राजा देवेंद्र सिंह, पूर्व विधायक रामपाल सिंह और आरएनकेला इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य रहे आचार्य आरएनकेला मौजूद थे। मंच के नाम पर सिर्फ एक तख्त था। कामरेड राम पाल सिंह बताते हैं कि उस वक्त चौधरी चरण सिंह की कांग्रेस से बिगड़ चुकी थी।


यह भी पढ़ें :  यूपी चुनाव 2022 : बागपत से रालोद-सपा ने अहमद हमीद को उतारा, बड़ौत व छपरौली पर फंस रहा पेंच, जल्द घोषित होंगे प्रत्याशी

कांग्रेस के खिलाफ पूरे प्रदेश में माहौल बनाने के लिए नजीबाबाद आए थे। वहीं कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष रहे नौबहार सिंह बताते हैं कि वे कक्षा आठ में पढ़ते थे। चौधरी चरण सिंह के आने की खबर मिली तो वे भी गांव वालों के साथ सभा में पहुंचे। गांव धनसीनी से पांच बैलगाड़ी पर बैठकर लोग चौधरी साहब को सुनने आए थे।

नौबहार सिंह बताते हैं कि संबोधित करते हुए अचानक चौधरी साहब चुप हो गए। कुछ ही देर में मालूम हुआ कि एक व्यक्ति भीड़ में बैठा हुआ बीड़ी पी रहा है। साथ ही आस पास के लोगों से बातचीत कर रहा था।

चौधरी साहब ने देखा ही था कि वह उठकर भागने लगा। भीड़ पीछे दौड़ी तो चौधरी साहब ने कहा रुक जाओ, उसे जाने दो। नौबहार सिंह बताते हैं कि चौधरी साहब अनुशासन प्रिय थे। इसी जनसभा के बाद चौधरी देवेंद्र सिंह बीकेडी से विधायक बने।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं
<<<<<<< HEAD
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं
======= >>>>>>> feb267328f56a7e96f0c022f6086442ee21d097d

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00