लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Etawah ›   Shivpal Yadav gave big statement in Etawah up

बढ़ीं सियासी सरगर्मियां: शिवपाल यादव दिल्ली रवाना, बोले- जब अपने-परायों में भेद पता नहीं हाेता तो होती है महाभारत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, इटावा Published by: शिखा पांडेय Updated Tue, 29 Mar 2022 02:03 PM IST
सार

शिवपाल सिंह यादव ने इस दौरान कहा कि जब अपने और परायों में भेद नहीं पता होता है तब महाभारत होती है। धर्म और राजनीति दोनों में यह नीति लागू होती है। साइकिल चुनाव चिह्न से लड़ने वाले प्रत्याशियों में उनकी जीत सबसे बड़ी हुई है।

धार्मिक कार्यक्रम में शामिल हुए प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव
धार्मिक कार्यक्रम में शामिल हुए प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सपा विधान मंडल दल की बैठक में न बुलाए जाने से नाराज होकर लखनऊ से इटावा वापस लौटे प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव रविवार सुबह ही रवाना हो गए। इटावा में उन्होंने बहुत खास लोगों से ही मुलाकात की। बताया जा रहा है कि शिवपाल सिंह यादव दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं।


उनके दिल्ली जाने की चर्चा से जिले में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गईं हैं। प्रसपा से जुड़े कुछ लोगों का कहना है कि अध्यक्ष लखनऊ जाने की बात कहकर यहां से रवाना हुए हैं। प्रसपा अध्यक्ष और जसवंतनगर से विधायक शिवपाल सिंह यादव को शनिवार को लखनऊ में सपा विधान मंडल दल की बैठक में नहीं बुलाया गया था। वह बैठक के लिए लखनऊ में ही रुके हुए थे। बैठक में न बुलाए जाने से नाराज शिवपाल सिंह यादव शनिवार को ही इटावा के लिए रवाना हो गए थे।

भाजपा प्रत्याशी की तारीफ की
शिवपाल यहां पर तंज कसा कि धर्म के युद्ध में युधिष्ठिर दुर्योधन की जगह शकुनी से जुआ खेलने लगे, यहीं खेल का परिणाम तय हो गया था, हार किसकी होनी है। वे ताखा ब्लॉक के उदयपुरकला में एक धार्मिक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वह चाहते थे कि सिरसागंज से भाजपा प्रत्याशी हरीओम यादव को भी जीत मिले। भाजपा के सिरसागंज से प्रत्याशी रहे हरीओम यादव के साथ मंच साझा करते हुए कहा कि भाजपा प्रत्याशी हरीओम यादव को भी जीतना चाहिए था वह अच्छे व्यक्ति हैं।

धर्म और राजनीति दोनों में लागू होती है यह नीति- शिवपाल
शिवपाल सिंह यादव ने इस दौरान कहा कि जब अपने और परायों में भेद नहीं पता होता है तब महाभारत होती है। धर्म और राजनीति दोनों में यह नीति लागू होती है। साइकिल चुनाव चिह्न से लड़ने वाले प्रत्याशियों में उनकी जीत सबसे बड़ी हुई है। उन्होंने कहा कि आज सपा विधायकों की बैठक का कोई बुलावा नहीं भेजा गया था। इसी कारण वह शामिल नहीं हुए। लखनऊ से आकर अपने शुभचिंतकों के कार्यक्रमों में शामिल हो रहे हैं। इस मौके पर पूर्व विधायक हरीओम यादव ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि ध्रुव यादव चीनी भी मौजूद रहे।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00