सिद्धन मार्ग का हाल: सड़क पर गड्ढे या गड्ढे में सड़क

Jhansi Bureau झांसी ब्यूरो
Updated Tue, 21 Sep 2021 01:32 AM IST
खस्ताहाल सड़क
खस्ताहाल सड़क - फोटो : LALITPUR
विज्ञापन
ख़बर सुनें
ललितपुर। प्रदेश सरकार के साढ़े चार साल पूरे होने पर विकास योजनाओं को गिनाने वालों को शहर के सिद्घन मार्ग की खस्ता हालत नजर नहीं आ रही है। आलम यह है कि केंद्रीय विद्यालय जाने वाला सिद्घन मार्ग इन दिनों गड्ढों व दलदल में तब्दील हो रहा है। इस मार्ग पर आईटीआई और केंद्रीय विद्यालय समेत कई शिक्षण संस्थाएं व धार्मिक स्थल हैं। गुढ़वार को जाने वाले इस सड़क पर दो पहिया, तीन व चार पहिया सैकड़ों वाहन प्रतिदिन निकल रहे हैं। जानकारी के मुताबिक इस सड़क से बाईपास होते हुए जाखलौन, धौर्रा, देवगढ़ तक जाने के लिए करीब 60 गांवों के लोगों का आवागमन रहता है। हैरत की बात तो यह है कि नगर पालिका प्रशासन ने इन गड्ढों में रोड़ा तक डलवाना मुनासिब नहीं समझा। इस कारण इस मार्ग से आवागमन करना जोखिम भरा हो रहा है। सबसे अधिक दिक्कत स्कूल व कॉलेज जाने वाले छात्र-छात्राओं को हो रही है। प्रदेश सरकार के दर्जा प्राप्त मंत्री हरगोविंद कुशवाहा, विधायक रामरतन कुशवाहद्म से लेकर अधिकारी तक सरकार के विकास कार्यों का गुणगान करने में लगे हैं लेकिन शहर से निकलने वाली इस सड़क पर उनकी नजर नहीं पड़ रही।
विज्ञापन

दृश्य एक
केंद्रीय विद्यालय जाने वाले मार्ग पर गड्ढे को बचाकर वाहन चालकों को निकलना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों की माने तो बारिश में जलभराव से गड्ढे की गहराई का आंकलन न कर पाने से वाहन चालक गिरकर चुटहिल हो रहे हैं।

सिद्घन मंदिर मार्ग पर ये दूसरा गड्ढा है, जिससे निकलना जोखिम भरा हो रहा है। यहां भी बारिश में जलभराव के दौरान निकलना मुश्किल हो रहा है। इन गड्ढों में गिट्टी अथवा पत्थर ही पड़ जाते तो लोगों को निकलने में कुछ राहत मिलती।
सिद्घन मंदिर मार्ग पर ये दूसरा गड्ढा है जिसमें से ट्रांसफार्मर को जाने वाली एसटी केबल अब कटने लगी है। यही हाल रहा तो कभी भी बड़े हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता है।
रेलवे पुल के नीचे का गड्ढा बारिश में यहां जलभराव के कारण निकलना मुश्किल हो जाता है। इस गड्ढे के ऊपर से स्कूली व निजी बस भी निकल रही हैं।
बरसात के कारण सड़क की मरम्मत नहीं हो पा रही थी। 15 दिन बाद शहर की अन्य सड़कों की भी मरम्मत करवाई जाएगी।- रामरतन कुशवाहा, सदर विधायक
सिद्घन मार्ग पर बड़े वाहनों के अधिक निकलने से गड्ढे गहरे हो गए हैं। बारिश थमते ही इन गड्ढों में गिट्टी डलवाकर मरम्मत कराई जाएगी।-निहाल चंद्र, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00