Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Meerut ›   After five months, the body was removed from the grave, court filed a case and ordered an investigation

शामली : पांच माह बाद कब्र से निकाला शव, भाई के प्रार्थनापत्र पर कोर्ट ने दिए मुकदमा दर्ज कर जांच के आदेश 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला नेटवर्क, मेरठ Published by: Dimple Sirohi Updated Sun, 28 Nov 2021 02:26 PM IST
After five months, the body was removed from the grave, court filed a case and ordered an investigation
विज्ञापन
ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के शामली में कई माह पूर्व एक युवक की संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। पीड़ित परिजनों का आरोप है कि उनके आने से पूर्व ही उनके भाई के शव को दफना दिया गया था। पीड़ित परिजनों ने मृतक की पत्नी व उसके प्रेमी पर अपने भाई की हत्या के आरोप लगाते हुए न्यायालय की शरण ली थी। शनिवार को डीएम के आदेश पर एसडीएम सदर और सीओ कैराना ने भारी पुलिस बल के साथ कस्बा एलम पहुंचकर मृतक के शव को कब्र से निकालकर पीएम के लिए भिजवाया।

विज्ञापन


जानकारी के अनुसार कस्बा एलम निवासी सादिक ने एक माह पूर्व न्यायालय की शरण लेते हुए बताया था कि उसका भाई साजिद उसके साथ में मध्यप्रदेश में वेल्डिंग का कार्य करता था। नौ जुलाई 2021 को साजिद मध्यप्रदेश से एलम में घर पहुंचा था। इसी दिन शाम को उसे सूचना मिली थी कि बीमारी के चलते साजिद की मौत हो गई। लेकिन, उसके गांव में आने से पहले ही शव को सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया था।


यह भी पढ़ें:  UPTET Paper Leaked:एसटीएफ की पूछताछ में हुआ खुलासा, आरोपियों ने मथुरा में 50 हजार रुपये में खरीदा था पेपर

आरोप है कि साजिद की पत्नी के अनैतिक संबंधों के चलते उसके भाई की हत्या की गई है। प्रेमी गांव हिलवाड़ी थाना बड़ौत जनपद बागपत का रहने वाला बताया गया है। पीड़ित ने यह भी बताया है कि उसे एक वीडियो प्राप्त हुई है, जिसमें उसके भाई के शरीर पर चोटों के निशान नजर आ रहे हैं। इसके अलावा एक ऑडियो में उसके भाई व भाभी के बीच अनैतिक संबंधों को लेकर बहस भी हो रही है।

न्यायालय ने कांधला थाना को उक्त मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। पीड़ित परिवार ने डीएम जसजीत कौर को भी शिकायती पत्र देकर अपने भाई की कब्र से भाई का शव निकलवा कर पोस्टमार्टम कराने की भी मांग की थी।

शनिवार को जिला अधिकारी जगजीत कौर के आदेश पर एसडीएम शामली बृजेश सिंह व सीओ कैराना जितेंद्र तोमर भारी पुलिस बल के साथ कस्बा एलम के कब्रिस्तान पहुंचे, जहां पर उन्होंने शव को कब्र से निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ कैराना जितेंद्र तोमर ने बताया कि शव को कब्र से निकालकर पीएम के लिए भेजा गया है। जिससे उसकी मौत के सही कारणों का पता लगाया जा सके।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00