निशाने पर कबाड़ी: हाजी गल्ला की नौ करोड़ की संपत्ति जब्त, लखनऊ तक पहुंचा मामला, अभी और खुलेंगे राज

अमर उजाला ब्यूरो, मेरठ Published by: कपिल kapil Updated Fri, 22 Oct 2021 12:16 PM IST

सार

मेरठ में करीब 150 कबाड़ी पुलिस के निशाने पर हैं। हिस्ट्रीशीटर कबाड़ी हाजी गल्ला की अब तक नौ करोड़ की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। वहीं उसके साथियों की अवैध संपत्ति के बारे में जानकारी की जा रही है।
मेरठ में कबाड़ी हाजी गल्ला की संपत्ति जब्त।
मेरठ में कबाड़ी हाजी गल्ला की संपत्ति जब्त। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मेरठ में सोतीगंज के शातिर कबाड़ी हाजी गल्ला और उसके साथियों की घेराबंदी के लिये पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली है। गल्ला की संपत्ति के जब्तीकरण के लिये फाइल तैयार हो चुकी है, जिसकी एक कॉपी जीएसटी विभाग को भी भेजी गई है। 
विज्ञापन


चोरी व लूट के वाहन काटने वाले हाजी गल्ला की नौ करोड़ की संपत्ति जब्त करने का दावा पुलिस कर रही है। तीन मकान व एक गोदाम सील किये गए हैं। एसपी सिटी व एएसपी कैंट ने लोगों से अपील की है कि गल्ला और उसके साथियों की संपत्ति के बारे में जो बताएगा, उसका नाम पता गोपनीय रखने के साथ पुलिस इनाम भी देगी। 


इसके बाद गल्ला की संपत्ति के बारे में पुलिस को अलग-अलग नंबरों से जानकारियां मिलने लगी है। कैंट में गल्ला के गोदाम व दुकान भी बताई गई है, जिसकी पड़ताल करने में पुलिस लग गई। पुलिस का कहना है कि रिमांड के दौरान भी गल्ला और उसके बेटों ने महत्वपूर्ण बात बताई थीं। सोतीगंज के 150 कबाड़ियों की संपत्ति की जांच कराई गई है। 

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील

लखनऊ से भी ली जा रही जानकारी 
अन्य जनपदों में भी गल्ला की संपत्ति का पता लगाया जा रहा है। मेरठ पुलिस ने आईजी रजिस्ट्रार लखनऊ से संपर्क किया है। ताकि जल्द संपत्तियों का विवरण जुटाकर कार्रवाई की जा सके। 

यह भी पढ़ें: पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें

गल्ला की बेनामी संपत्ति का विवरण पुलिस जुटाने का प्रयास कर रही है। कहां-कहां उसकी संपत्ति है, इसकी संभावना को तलाशते हुए लखनऊ में संपर्क किया जाएगा। - विनीत भटनागर, एसपी सिटी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00