लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Muzaffarnagar ›   Offices locked of Block development by BKU workers in Muzaffarnagar

BKU: भाकियू कार्यकर्ताओं ने खंड विकास अधिकारी कार्यालय पर जड़ा ताला, अफसरों पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

अमर उजाला ब्यूरो, मुजफ्फरनगर Published by: मेरठ ब्यूरो Updated Wed, 03 Aug 2022 09:18 AM IST
सार

अधिकारियों और कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए भाकियू कार्यकर्ताओं ने खंड विकास अधिकारी कार्यालय पर ताला लगा दिया। जानिए आखिर पूरा मामला क्या है।

बुढ़ाना के खंड़ विकास अधिकारी कार्यालय पर ताला लगाते भाकियू कार्यकर्ता।
बुढ़ाना के खंड़ विकास अधिकारी कार्यालय पर ताला लगाते भाकियू कार्यकर्ता। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में भाकियू कार्यकर्ताओं ने विकास खंड कार्यालय के कर्मचारियों और अधिकारियों पर भ्रष्टाचार सहित विभिन्न गंभीर आरोप लगाते हुए धरना दिया। कार्यालय पर ताला भी जड़ दिया। धरना स्थल पर पहुंचे एसडीएम और खंड विकास अधिकारी के एक सप्ताह में कार्रवाई करने के आश्वासन पर भाकियू कार्यकर्ताओं ने धरना समाप्त कर ताला खोला।



भाकियू के तहसील अध्यक्ष अनुज बालियान और ब्लॉक अध्यक्ष संजीव पंवार के नेतृत्व में भाकियू कार्यकर्ता मंगलवार को विकास खंड कार्यालय परिसर में धरने पर बैठ गए। अनुज बालियान ने कहा कि वृद्धावस्था-विधवा पेंशन, जन्म व मृत्यु प्रमाण पत्र आदि के बनवाने में अवैध रूप से वसूली की जाती है। कोई भी प्रमाण पत्र सुविधा शुल्क लिए बिना जारी नहीं किया जाता है। मनरेगा कार्यों व सफाई के नाम पर फर्जी बिल बनाए जा रहे हैं।


उन्होंने कहा कि रसूलपुर दभेड़ी गांव में सस्ते गल्ले की दुकान का आवंटन अनियमितता पूर्वक किया गया है। ब्लॉक के सभी गांवों में गंदगी व कीचड़ भरा हुआ है। सफाई कर्मचारी गांव में नहीं जाते। जलभराव की समस्या गंभीर है। गांव के रास्ते टूटे हुए हैं। विकास कार्य ठप पड़े हैं। लगातार की जा रही शिकायतों के बावजूद सुनवाई न होने से नाराज भाकियू कार्यकर्ताओं ने खंड विकास अधिकारी कार्यालय पर ताला लगा दिया।

यह भी पढ़ें: अनोखा फैसला: क्षत्रिय महासभा में पास हुआ ऐसा प्रस्ताव, अब बरात में जाएंगे सिर्फ 21 लोग, फिजूल खर्च पर भी रोक

सूचना मिलते ही खंड विकास अधिकारी सतीश कुमार और उप जिलाधिकारी अरुण कुमार धरनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने भाकियू कार्यकर्ताओं को एक सप्ताह में समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। इस आश्वासन पर कार्यकर्ताओं ने धरना समाप्त किया। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00