Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Shamli ›   UP News: Child has abducted in Shamli, recovered after 12 hours by police

खौफनाक: 12 घंटे तक अपहर्ताओं के कब्जे में रहा बच्चा, मारपीट कर खिलाई नशे की गोली और फिर...

संवाद न्यूज एजेंसी, शामली Published by: कपिल kapil Updated Wed, 09 Feb 2022 10:16 PM IST
सार

शामली में एक बच्चे का अपहरण कर लिया गया। बच्चा करीब 12 घंटे तक अपहर्ताओं के कब्जे में रहा। इसके बाद पुलिस ने बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया।

पुलिस ने बच्चे को किया बरामद।
पुलिस ने बच्चे को किया बरामद। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

शामली में अपहृत नोमान करीब 12 घंटे तक अपहर्ताओं के कब्जे में रहा। पुलिस के मुताबिक बाइक सवार दो युवक बालक को बाइक पर ले गए, जबकि उनके दो साथी दूसरी बाइक पर चल रहे थे। नहर पटरी के रास्ते बड़ौत क्षेत्र में किराये पर नर्सरी चलाने वाले आरिफ के पास ले गए। गिरफ्तार पांच आरोपियों में एक सूफियान अपहृत बच्चे की दूर की रिश्तेदारी से है और वह बच्चो को छपरौली मार्ग स्थित नर्सरी तक पहुंचाकर वापस आ गया, आने के बाद वह पीड़ित के घर की निगरानी करता रहा।



अपहरण की सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया। बच्चे को जिला बागपत के बड़ौत से छपरौली जाने वाले रास्ते पर गांव मलकपुर के पास नर्सरी में बनाए गई कोठरी में रखा गया था। गिरफ्तार आरोपियों ने कुछ दिन पहले बच्चे का अपहरण कर फिरौती वसूलने की साजिश रची थी। पुलिस ने शक के घेरे में आते ही सूफियान को दबोच लिया और उसके बाद पुलिस ने अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर बच्चे को सकुशल बरामद किया। परिजनों के अनुसार बच्चे ने बताया कि अपहर्ताओं ने उसके साथ मारपीट की और नहर पटरी के रास्ते ले गए। उसे नहर में फेंकने की धमकी देकर चुप रहने के लिए कहा। इसके बाद उसे नशे की गोली खिलाकर अचेत कर दिया।


एसपी का परिजनों ने किया सम्मान
एसपी सुकीर्ति माधव बुधवार दोपहर को अपहृत बच्चे के घर पहुंचे। उन्होंने बच्चे से घटना के बारे में जानकारी ली, हालांकि वह ज्यादा कुछ नहीं बता सका। इस दौरान परिजनों ने बच्चे के सकुशल बरामद करने में पुलिस की कार्रवाई की सराहना करते हुए एसपी व कोतवाली प्रभारी का फूल माला पहनाकर सम्मान किया।

यह भी पढ़ें: यूपी चुनाव 2022: उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, असदुद्दीन ओवैसी और अनुराग ठाकुर समेत आज मेरठ में प्रचार करेंगे दिग्गज नेता

सर्विलांस, साइबर सेल की मदद से अपहर्ताओं तक पहुंची पुलिस
बच्चे नोमान का अपहरण करने वाले आरोपियों तक पुलिस सर्विलांस की मदद से पहुंची। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने उत्तराखंड व दिल्ली से नए सिम खरीदे थे। उन नंबरों का इस्तेमाल सिर्फ फिरौती वसूलने के लिए किया जाना था। कॉल आने के बाद सर्विलांस और साइबर सेल को जांच पड़ताल कर आरोपियों की पहचान करने में सफलता मिली। इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें: अमर उजाला एक्सक्लूसिव : मानदेय रुका तो यूपी के इस जिले में ऑपरेटर ने रोक दिया पूरे गांव का पानी, 15 दिन से बूंद-बूंद को तरस रहे ग्रामीण

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00