लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Varanasi ›   Murder of sadhus in the presence of police, strict action should be taken against the culprits: Shankaracharya Swami Swaroopanand Saraswati

पुलिस की मौजूदगी में हुई साधुओं की हत्या, दोषियों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए : शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: स्‍वाधीन तिवारी Updated Tue, 21 Apr 2020 07:07 PM IST
जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज
जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

ज्योतिष और द्वारिका शारदा पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने महाराष्ट्र के पालघर में साधुओं की हत्या को जघन्यतम करार दिया है। इस तरह की घटना से अब यह सवाल उठता है कि क्या संत महात्मा अब स्वच्छंद भ्रमण भी नहीं कर सकते हैं। दुख की बात तो यह है कि पुलिस की मौजूदगी में यह घटना हुई।



जब उनके प्राण ही चले गए तो अब न्याय किसको मिलेगा। इसमें पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से उत्तरदायी है। प्रदेश सरकार को इस मामले में सख्ती के साथ दोषियों पर कार्रवाई करनी चाहिए जिससे कि दोबारा इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति ना हो। महाराष्ट्र में जूना अखाड़ा के संत धार्मिक कार्य से जा रहे थे। एकाएक भीड़ ने उन पर हमला बोल दिया और जब तक उनके प्राण नहीं चले गए उन पर डंडे बरसते रहे। यह जघन्यतम और दंडनीय अपराध है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00