लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Kotdwar ›   Kotdwar News: Another family getaway due to fear of Guldar

गुलदार की दहशत: अल्दावा गांव के एक और परिवार ने किया पलायन, बच्चों को स्कूल तक नहीं भेज रहे लोग

संवाद न्यूज एजेंसी, कोटद्वार Published by: देहरादून ब्यूरो Updated Thu, 15 Sep 2022 07:23 PM IST
सार

ग्रामीणों ने स्कूली बच्चों और ग्रामीणों की वनकर्मियों के पहरे के बीच सुरक्षित दुगड्डा आवाजाही कराने की मांग की थी। वन विभाग ने वन कर्मियों की कमी बताकर हाथ खड़े कर दिए।

गुलदार
गुलदार - फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

गुलदार के डर से गांव अल्दावा का एक और परिवार पलायन कर गया है। मजबूरन दुगड्डा बाजार में किराए के मकान पर शिफ्ट होना पड़ा। बीते 11 सितंबर को गांव में एक व्यक्ति पर गुलदार के हमले के बाद ग्रामीणों में दहशत बढ़ गई है। तीन दिनों से परिवार बच्चों को स्कूल नहीं भेज पा रहा था।



गांव के दो बच्चे तीन दिनों से दुगड्डा स्कूल नहीं जा पा रहे थे। ग्रामीणों ने स्कूली बच्चों और ग्रामीणों की वनकर्मियों के पहरे के बीच सुरक्षित दुगड्डा आवाजाही कराने की मांग की थी। वन विभाग ने वन कर्मियों की कमी बताकर हाथ खड़े कर दिए। इस पर बच्चों के भविष्य को देखते परिवार ने गांव से पलायन का निर्णय लिया।


हाईवे पर गजराज: पूर्व सीएम त्रिवेंद्र की गाड़ी के आगे आया हाथी, वाहन छोड़ चट्टान पर चढ़कर बचाई जान, तस्वीरें

ग्रामीण सुदर्शन ने बताया कि उनकी बेटी जीजीआईसी दुगड्डा में हाईस्कूल में पढ़ती है। बेटा जीआईसी दुगड्डा में इंटरमीडिएट में पढ़ता है। गुलदार के डर से गांव से आना जाना संभव नहीं है। दुगड्डा से गांव की पैदल दूरी करीब तीन किमी है।

सड़क मार्ग से गांव की दूरी आठ किमी पड़ती है। वन मोटर मार्ग होने के कारण सड़क बदहाल है। बच्चों के भविष्य को देखते हुए उन्हें पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा। सुदर्शन अपनी वृद्ध मां करोली देवी, पत्नी ज्योति देवी और दोनों बच्चे शिल्पा व यशवंत को लेकर दुगड्डा में शिफ्ट हो गए हैं।

अल्दावा गांव से बीते दो दशकों में 44 परिवार पलायन कर चुके हैं। अब वन्यजीवों का आतंक ज्यादा बढ़ गया है। गुलदार के साथ ही बाघ भी गांव के आसपास मंडराता रहता है। ग्रामीण लंबे समय से गांव की सड़क को चौड़ा और पक्का बनवाने या फिर उन्हें दूसरी जगह विस्थापित करने की मांग कर रहा है। हालात यह हैं कि शासन, प्रशासन और जनप्रतिनिधि बेसुध हैं।
विज्ञापन
-माधुरी देवी, ग्राम प्रधान अल्दावा

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00