लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Kotdwar ›   Due to silt, cultivators are not getting irrigable water

दांयी मालिनी फीडर के मुहाने पर भरी सिल्ट, सिंचाई के लिए नहीं मिल रहा पर्याप्त पानी

Dehradun Bureau देहरादून ब्यूरो
Updated Sun, 14 Aug 2022 09:42 PM IST
Due to silt, cultivators are not getting irrigable water
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भाबर क्षेत्र के अंतर्गत मालिनी फीडर के मुहाने में मिट्टी की गाद (सिल्ट) भरने से काश्तकारों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है, जिससे उनकी धान, सोयाबीन समेत अन्य फसलें सूखने की कगार पर हैं। काश्तकारों का आरोप है कि सिंचाई विभाग के अधिकारियों को अवगत कराने के बावजूद अभी तक कार्रवाई नहीं हुई है।

मालिनी फीडर कण्वाश्रम में आकर दो फीडरों में बंट जाती है। दांयी मालिनी फीडर से कलालघाटी क्षेत्र के उदयरामपुर, तेलीबाड़ा, मगनपुर, किशनपुर, लछमपुर, रामदयालपुर उमरावपुर, जशोधरपुर, हल्दूखाता क्षेत्र के काश्तकारों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध होता है। जबकि बांयी मालिनी फीडर से नंदपुर, मवाकोट, कोठला, घमंडपुर, नींबूचौड़, सत्तीचौड़ आदि क्षेत्र के काश्तकारों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध होता है। वर्तमान में मालिनी फीडर के मुहाने पर सिल्ट जमा हो गई है, जिससे नदी में पर्याप्त पानी होने के बावजूद काश्तकारों को सिंचाई के लिए पानी नहीं मिल पा रहा है। सबसे ज्यादा दिक्कत टेल के गांवों के काश्तकारों को हो रही है। स्थिति यह है कि सिंचाई के अभाव में काश्तकारों की खरीफ की फसल धान, सोयाबीन, मक्का, उड़द, अरहर, तोर आदि सूखने की कगार पर हैं। अखिल भारतीय किसान सभा भाबर के संरक्षक जीएस नेगी, काश्तकार मधुसूदन नेगी, दिनेश सिंह नेगी, राजेंद्र प्रसाद जोशी, जगदीश सिंह नेगी, भगवती प्रसाद डबराल, पुरुषोत्तम डबराल, जगदीश बहुखंडी, सुखपाल सिंह, मंगत कुकरेती आदि का आरोप है कि इस संबंध में सिंचाई विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया गया, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। कहा कि यदि ऐसी ही स्थिति रही तो उनकी खरीफ की फसल चौपट हो जाएगी। काश्तकारों ने मालन फीडर में जमा सिल्ट की सफाई करा सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध कराने की मांग उठाई है।

मालिनी फीडर में सिल्ट जमा होने का मामला संज्ञान में है। अधीनस्थ अधिकारियों को मजदूर लगा सिल्ट की सफाई के लिए निर्देशित किया गया है। जल्द ही काश्तकारों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध कराया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00