लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   26 dead as forest fires spread in north Algeria

Forest Fires In North Algeria : उत्तरी अल्जीरिया में जंगल में फैली आग, झुलसने से 26 लोगों की मौत

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, अल्जीयर्स। Published by: योगेश साहू Updated Thu, 18 Aug 2022 06:45 AM IST
सार

अल्जीरिया अफ्रीका का सबसे बड़ा देश है, लेकिन इसके पास केवल 4.1 मिलियन हेक्टेयर (10.1 मिलियन एकड़) जंगल है। हर साल इस देश का उत्तरी इलाका जंगल की आग से प्रभावित होता है। यह समस्या जलवायु परिवर्तन की वजह से और भी गंभीर हो गई है।

जंगल की आग।
जंगल की आग। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अल्जीरिया के जंगलों में आग फैलने से करीब 26 लोगों की झुलसने से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, अगस्त माह की शुरुआत के बाद से ही अल्जीरिया में अब तक 106 बार आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं। इसकी वजह से 2,500 हेक्टेयर से अधिक वनक्षेत्र नष्ट हो गया है।



देश के गृह मंत्री कामेल बेल्डजौद ने बुधवार को कहा कि उत्तरी अल्जीरिया के 14 जिलों के जंगल में लगी आग में कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई और दर्जनों अन्य घायल हो गए। बेल्डजौद ने सरकारी टेलीविजन को बताया कि ट्यूनीशिया की सीमा के पास एल तारफ में आग लगने से 24 लोगों की मौत हो गई, इसके अलावा इससे पहले सेतिफ में दो अन्य लोग की मौत हो गई थी।


सेतिफ में नागरिक सुरक्षा एजेंसी ने कहा कि शहर में दो महिलाओं 58 वर्षीय मां और उनकी 31 वर्षीय बेटी की मारी गई थीं। इस दौरान ट्यूनीशिया के साथ अल्जीरिया की सीमा के पास पूर्व में सूक अहरास में लोगों को अपने घरों से भागते देखा गया, क्योंकि अग्निशमन हेलीकॉप्टरों को तैनात करने से पहले आग फैल गई थी। अधिकारियों ने कहा कि पहले सूचना मिली थी कि सूक अहरास में चार लोग जल गए और 41 अन्य को सांस लेने में कठिनाई हुई। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि 350 निवासियों को आग से बचाकर निकाला गया था।

अन्य क्षेत्रों में लगी आग में घायल हुए लोगों की संख्या के बारे में कोई अद्यतन जानकारी नहीं मिली है। आग की वजह से देश के सैन्यबल जेंडरमेरी ने कई सड़कों को बंद कर दिया है। नागरिक सुरक्षा एजेंसी ने कहा, 14 विला (प्रशासनिक परिषदों) में उनचालीस जगहों पर आग लगी हुई है। वहीं एल तारफ में 16 जगहों पर आग लगने की वजह से कुछ भी नहीं बचा है, यह सबसे ज्यादा प्रभावित इलाका है।

सूक अहरास सहित तीन प्रशासनिक परिषदों में आग पर पानी गिराने के लिए हेलीकॉप्टरों ने बांबी बाल्टी का इस्तेमाल किया है। अगस्त की शुरुआत के बाद से ही अल्जीरिया में आग लगने की 106 घटनाएं हो चुकी हैं। इनकी वजह से 2,500 हेक्टेयर से अधिक जंगल नष्ट हो गए हैं। बेल्डजौद ने कहा कि कुछ जगह पर खुद लोगों ने आग लगाई थी। बुधवार को हुई मौतों के बाद इस गर्मी में जंगल की आग में मारे गए लोगों की कुल संख्या अब 30 हो गई है।

अल्जीरिया अफ्रीका का सबसे बड़ा देश है, लेकिन इसके पास केवल 4.1 मिलियन हेक्टेयर (10.1 मिलियन एकड़) जंगल है। हर साल इस देश का उत्तरी इलाका जंगल की आग से प्रभावित होता है। यह समस्या जलवायु परिवर्तन की वजह से और भी गंभीर हो गई है। पिछले साल भी उत्तरी अल्जीरिया के जंगल में आग लगने से कम से कम 90 लोगों की मौत हो गई थी, जिससे 100,000 हेक्टेयर से अधिक वनक्षेत्र नष्ट हो गया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00