कोरोनावायरस: दक्षिण अफ्रीका में संक्रमण बेलगाम, एक हफ्ते में 400 फीसदी बढ़ा संक्रमितों का आंकड़ा

एजेंसी, जोहानसबर्ग। Published by: Jeet Kumar Updated Thu, 02 Dec 2021 06:09 AM IST

सार

दक्षिण अफ्रीका में मंगलवार को 4,473 नए मामले दर्ज किए, जो पिछले मंगलवार को दर्ज किए गए 868 मामलों की तुलना में 403 फीसदी अधिक हैं, जबकि सोमवार के 2,273 मामलों की तुलना में 92 फीसदी अधिक हैं। 
अफ्रीका में कोरोना
अफ्रीका में कोरोना - फोटो : Worldbank
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कोविड के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की पहचान के बाद से दक्षिण अफ्रीका में कोविड से संक्रमण के मामलों में 403 फीसदी की भयानक वृद्धि हुई है। इसके अलावा संक्रमण दर भी10 फीसदी के पार हो गई है। वहीं, अस्पताल में भर्ती होने वाले लोगों में 87 फीसदी को टीका नहीं लगा है।
विज्ञापन


 दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष महामारी विशेषज्ञ अब्दुल-करीम ने बताया कि सप्ताह के अंत तक 10,000 से अधिक दैनिक संक्रमण के मामले सामने आ सकते हैं, जिससे अगले दो से तीन सप्ताह में अस्पतालों पर भारी दबाव पड़ सकता है। उन्होंने वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए भीड़ भरे आयोजनों को रोकने की सलाह देते हुए कहा कि सुपर-स्प्रेडिंग की स्थिति हालात को नियंत्रणसे बाहर कर सकती है।


दक्षिण अफ्रीका की प्रमुख वायरोलॉजिस्ट टुलियो डी ओलिवेरा ने यात्रा प्रतिबंध लगाने वाले देशों की अलोचना करते हुए कहा कि संक्रमण में हो रही भयानक वृद्धि से लोगों को बचाने के लिए यात्रा प्रतिबंध नहीं, बल्कि ज्यादा से ज्यादा लोगों टीकाकरण प्रभावी उपाय है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा वैक्सीन नए वैरिएंट से भी सुरक्षा में मददगार होंगी। दक्षिण अफ्रीका में मंगलवार को 4,473 नए मामले दर्ज किए, जो पिछले मंगलवार को दर्ज किए गए 868 मामलों की तुलना में 403 फीसदी अधिक हैं, जबकि सोमवार के 2,273 मामलों की तुलना में 92 फीसदी अधिक हैं। 

पर्यटकों के लिए फिजी ने खोले अपने द्वार.
एक तरफ दुनियाभर के देश ओमिक्रॉन की दहशत से यात्रा प्रतिबंध लगा रहे हैं। फिजी ने अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, ब्रिटेन सहित कई देशों के टीका लगवा चुके लोगों के लिए यात्रा की अनुमति दी है। फिजी के पर्यटन मंत्री फैयाज कोया ने कहा, "अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के स्वागत का इंतजार करते हुए दो वर्षों में, हमने बहुत संघर्ष किया है।"

वहीं, जापानी एयरलाइंस एएनए और जेएएल ने कहा कि वे दिसंबर के अंत तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए नए आरक्षण रद कर रहे हैं। नाइजीरिया में अक्तूबर में ही आ चुका था ओमिक्रॉन...नाइजीरिया के राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य संस्थान ने बुधवार को बताया कि नाइजीरिया में अक्तूबर में जमा किए गए नमूने में से एक के

ओमिक्रॉन से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। 24 नवंबर को दक्षिणी अफ्रीकी में पहचान के बाद से यह वैरिएंट 20 से ज्यादा देशों में फैल चुका है।

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक 28 नवंबर तक 56 से ज्यादा देशों ने ओमिक्रॉन के डर से यात्रा नियम सख्त किए हैं। मंगलवार को अमेरिका में यात्रा नियमों को सख्त करते हुए आगमन पर यात्रियों की

कठोर कोविड जांच का फैसला किया है। वहीं, जापान और हांगकांग ने यात्रा प्रतिबंधों बढ़ा दिए हें। जबकि, मलेशिया ने जोखिम वाले देशों से यात्रियों के आगमन रोक दिया है।

डब्ल्यूएचओ ने कहा हड़बड़ी में यात्रा प्रतिबंध लगाना गलत...डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्येयियस ने कहा कि वे चिंतित हैं कि कई देश आंखें बंद कर यात्रा प्रतिबंध लगा रहे हैं, जो असमानताओं को बढ़ाते हुए हालात को खराब करेगा। फिलहाल, एकजुट होकर तर्क व तथ्यों के आधार पर फैसलों की जरूरत है।

गंभीर बीमारी से बचा सकती है वैक्सीन
ज्यादातर विशेषज्ञ इस बात पर सहमत हैं कि मौजूदा वैक्सीन भले ही ओमिक्रॉन के खिलाफ पूरी सुरक्षा नहीं दे पाए, लेकिन ये किसी भी वैरिएंट से होने वाले संक्रमण से व्यक्ति को गंभीर रूप से बीमार होने से बचा सकती हैं।ब्रिटेन-जापान में बूस्टर डोज पर जोर  जापान व ब्रिटेन ने 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को बूस्टर डोज देने का फैसला किया है। वहीं, ऑस्ट्रिया ने 11 दिसंबर तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00