लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Mexican President proposes commission for global truce, led by 3 leaders including PM Modi

वैश्विक संधि: यूएन में आयोग बनाने का प्रस्ताव रखेंगे मेक्सिको के राष्ट्रपति, पीएम मोदी का भी नाम होगा शामिल

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, मेक्सिको सिटी Published by: Amit Mandal Updated Wed, 10 Aug 2022 09:04 PM IST
सार

मेक्सिको के राष्ट्रपति ने प्रस्ताव दिया कि इस शीर्ष आयोग में पोप फ्रांसिस, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होने चाहिए।

Mexican President Andres Manuel Lopez Obrador
Mexican President Andres Manuel Lopez Obrador - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मेक्सिको के राष्ट्रपति एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर विश्व शांति व समझौते को बढ़ावा देने के लिए एक आयोग बनाने हेतु संयुक्त राष्ट्र को एक लिखित प्रस्ताव पेश करने की योजना बना रहे हैं। पांच साल की अवधि के लिए बनने वाले इस आयोग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित विश्व के तीन नेताओं के नाम प्रस्तावित होंगे।  



पीएम मोदी सहित इन तीन दिग्गजों को शामिल करेंगे ओब्राडोर 
एमएसएन के मुताबिक, एक प्रेस कांफ्रेस में राष्ट्रपति ओब्रेडोर ने कहा, मैं लिखित में प्रस्ताव दूंगा, मैं इसे संयुक्त राष्ट्र में पेश करूंगा। मैं यह कहता रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मीडिया इसे फैलाने में हमारी मदद करेगा। क्योंकि जब तक यह उनके लिए सुविधाजनक नहीं होता है, तो वे बोलते नहीं हैं। मेक्सिको के राष्ट्रपति ने प्रस्ताव दिया कि शीर्ष आयोग में पोप फ्रांसिस, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होने चाहिए।


दुनिया भर में युद्धों को रोकने के लिए प्रस्ताव पेश करने की पहल 
आयोग का उद्देश्य दुनिया भर में युद्धों को रोकने के लिए एक प्रस्ताव पेश करना और कम से कम पांच साल के लिए एक संधि करने के लिए समझौता करना होगा। वे तीनों मिलेंगे और जल्द ही हर जगह युद्ध को रोकने का प्रस्ताव पेश करेंगे, कम से कम पांच साल के लिए एक संधि करने के लिए किसी समझौते पर पहुंचेंगे। ताकि दुनिया भर की सरकारें अपने लोगों, विशेष रूप से पीड़ित लोगों की मदद करने के लिए खुद को समर्पित कर सकें कि हमारे पास बिना तनाव, बिना हिंसा और शांति के पांच साल हैं। 

चीन, रूस और अमेरिका को आमंत्रित किया 
युद्ध जैसी कार्रवाइयों को समाप्त करने का आह्वान करते हुए मेक्सिको के राष्ट्रपति ने चीन, रूस और अमेरिका को शांति का रास्ता खोजने के लिए आमंत्रित किया और उम्मीद जताई कि तीनों देश मध्यस्थता को सुनेंगे और इसे स्वीकार करेंगे जैसा कि हम प्रस्तावित कर रहे हैं। उन्हें बताओ कि उनके टकराव के कारण यह हुआ है ।उन्होंने विश्व आर्थिक संकट को जन्म दिया है, उन्होंने मुद्रास्फीति में वृद्धि की है और भोजन की कमी, अधिक गरीबी पैदा की। और सबसे बुरी बात यह है कि एक साल में टकराव के कारण इतने सारे इंसानों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। यही उन्होंने एक साल में किया है।  

ओब्रेडोर के अनुसार, प्रस्तावित युद्धविराम ताइवान, इजराइल और फिलिस्तीन के मामले में समझौतों तक पहुंचने में मदद करेगा और अधिक टकराव को बढ़ावा देने वाला नहीं होगा। इसके अलावा, उन्होंने आग्रह किया कि दुनिया भर की सभी सरकारों को संयुक्त राष्ट्र के समर्थन में शामिल होना चाहिए, न कि नौकरशाही तंत्र जिसमें प्रस्ताव और पहल पेश किए जाते हैं। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00